हरियाणा में शहीद मेजर की बहू ने बदले तेवर, दर- दर भटकने को मजबूर मां- बाप ने सरकार से लगाई ये गुहार

पानीपत | साल 2023 में जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में हरियाणा के शहीद होने वाले मेजर आशीष धौंचक के मां- बाप धक्के खाने को मजबूर है. उनका आरोप है कि उनकी बहू अपनी बेटी सहित घर छोड़कर चली गई है. वो आधे घर पर ताला भी लगा गई है. शहीद की मां ने आरोप लगाया है कि उनकी बहु को बेटे की शहादत के पैसे मिल गए हैं. अब उसे हमारी कोई जरूरत नहीं है. हमें नहीं पता था कि बहू हमें धोखा देगी.

Panipat Shahid Major

सरकार से की ये मांग

बता दें कि शहीद आशीष धौंचक के माता- पिता पानीपत में सीएम नायब सैनी के कार्यक्रम में पहुंचे थे. उन्होंने यहां मुख्यमंत्री से अपील करते हुए कहा कि उनकी बहू को सरकारी नौकरी न दी जाए. शहीद के मां- बाप ने बहू पर कई संगीन आरोप भी लगाए. उन्होंने कहा कि हमने कभी नहीं सोचा था कि हमें ऐसे दिन देखने पड़ेंगे.

शहीद बेटे की तेरहवीं की रस्म प्रकिया के बाद बेटे की गाड़ी, उसे मिलने वाली आर्थिक सहायता के 50 लाख रूपए, मकान के कागज और शादी में मिला 30 तोला सोना लेकर बहू घर से चली गई है. शहीद मेजर के मां ये भी आरोप लगाया कि बहू उन्हें उनकी पोती से भी बात नहीं करने देती है. उन्होंने उसे रोकने की बहुत कोशिश की थी, लेकिन उसने उनकी एक न सुनी.

हमारी बेटी को मिले नौकरी

शहीद मेजर की मां ने कहा कि जब बेटे ने शहादत दी तब वह पूरे देश का था, लेकिन अब सिर्फ मां- बाप का है. कोई उनकी सुध लेने वाला नहीं है. ना तो सरकार हमारा हाल- चाल जानने आई और न ही सेना का कोई अधिकारी. सीएम से शहीद मेजर आशीष की मां ने गुहार लगाई कि उनकी बहू की जगह हमारी बेटी को सरकारी नौकरी दी जाए. हमारी देखभाल हमारी बेटी ही कर रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!