हरियाणा में 1 दिसंबर से पूरी क्षमता के साथ खुलेंगे स्कूल, जानें जरूरी गाइडलाइन

चंडीगढ़ | कोरोना संक्रमण की मंद होती रफ्तार के बीच हरियाणा सरकार ने 1 दिसंबर से प्रदेश के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को शत-प्रतिशत क्षमता के साथ‌ खोलने के आदेश दे दिए हैं. ऑफलाइन क्लासेज के दौरान सभी विद्यार्थियों, शिक्षकों और अन्य कर्मचारियों को कोरोना गाइडलाइंस का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा.

school student

हरियाणा के शिक्षा मंत्री कुंवर पाल सिंह ने मंगलवार को जानकारी देते हुए कहा कि 1 दिसंबर से प्रदेश के सभी स्कूलों में पूरी क्षमता के साथ ऑफलाइन पढ़ाई शुरू होगी. साथ ही पूरे दिन की कक्षाओं का संचालन किया जाएगा. बता दें कि मार्च 2020 के बाद से ही हरियाणा के स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए गए थे. हालांकि महामारी की पहली और दूसरी लहर के बाद से 50 फ़ीसदी क्षमता के साथ स्कूलों को खोला गया था.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में कम हुए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें क्या है आपके शहर में रेट

हरियाणा में कोरोना के सुधरते हालात

शिक्षा मंत्री ने यह भी बताया कि प्रदेश के भीतर 87 फीसदी आबादी का टीकाकरण हो चुका है और दिसंबर महीने आने तक लगभग सभी को पहले डोज लग जाएगी. शिक्षा विभाग के तमाम अधिकारियों को स्कूल खोलने की तैयारियों के आदेश दे दिए गए हैं. शिक्षा निदेशालय की ओर से सभी जिलों की शिक्षा व मौलिक शिक्षा अधिकारियों को हिदायतें जारी कर दी गई है. प्रदेश के भीतर संक्रमण की दर निम्नतम स्तर पर है और अब कोरोना का एक भी हॉट-स्पॉट देश के भीतर नहीं है.

कोरोना प्रोटोकॉल रहेगा लागू

पूरी क्षमता के साथ स्कूल खोलने के दौरान सभी को अनिवार्य रूप से कोरोना नियमों और प्रोटोकॉल का पालन करना होगा. सभी बच्चों, शिक्षकों और कर्मचारियों को मास्क लगाना अनिवार्य होगा. कोरोना से जुड़े सभी गाइडलाइंस का पालन करना होगा. प्रशासन का साफ तौर पर कहना है कि बिना मास्क स्कूल में एंट्री नहीं होगी. रोजाना शिक्षकों और विद्यार्थियों का तापमान मापा जाएगा जिसका रिकॉर्ड नियमित रूप से शिक्षा विभाग को भेजा जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!