लॉकडाउन का प्रभाव, मतदाता सूची की स्क्रूटनी पर लगा ब्रेक

पानीपत । लॉक डाउन की वजह से नगरपालिका मतदाता सूची की स्क्रूटनी पर ब्रेक लग गया है. 7 जून को इसकी अंतिम तिथि है , लेकिन लॉकडाउन लग जाने से कर्मचारियों का फील्ड में जाना बंद हो गया. स्क्रूटनी पूरी नहीं होने की वजह से 11 जून को प्रस्तावित सूची की समीक्षा भी नहीं की जा सकेगी . बता दें कि जून महीनों में पार्षदों का कार्यकाल पूरा हो रहा है.

HARYANA VOTER CARD LIST

पानीपत में मतदाता सूची की स्क्रूटनी पर लगा ब्रेक 

समालखा पालिका का कार्यकाल इस महीने समाप्त हो जाएगा. निकट भविष्य में चुनाव होना है. 7 जून को पालिका मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन होना था. 26 अप्रैल को इस बाबत लोगों से दावे व आपत्तिया ली गई थी. बता दे कि कस्बे के 17 वार्डों से अट्ठारह सौ आपत्तियां और 600 दावे पालिका को मिले थे. 27 अप्रैल को पालिका आयुक्त मे मीटिंग के बाद कर्मचारियों को मौके पर जाकर दावे आपत्तियों के निवारण करने के आदेश जारी किए थे.

अब दावा आपत्तियों के निवारण के बाद मतदाता सूची का प्रकाशन होगा. बाद में उसकी समीक्षा की जाएगी, फिर अंतिम प्रकाशन होगा. वही कर्मचारियों के अनुसार अब नए आदेश आने पर स्क्रूटनी शुरू होगी. इसके बाद ही सूची का प्रकाशन और समीक्षा की जाएगी.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: भाजपा और जजपा दिग्गजों में दिल्ली दरबार में पावरफुल दिखने की होड़

सूची की खामियों से परेशान है पार्षद

बता दे कि पार्षद राजेश ठाकुर, श्याम बरेजा,विक्रम, बाबी जांगड़ा,पूर्व पार्षद कुलभूषण अरोड़ा का कहना है कि मतदाता सूचियों में काफी कमियां है. इनमें मरने वालों के साथ-साथ बाहर रहने वालों के नाम भी शामिल है. वही साथ में कुछ लोगों के डबल नाम भी लिखे हुए हैं. दावो और आपत्तियों के निदान के बाद ही इसका अंतिम प्रकाशन होना चाहिए. जितनी देरी से मतदाता सूची बनेगी,  उतनी ही देरी चुनाव आयोजित करवाए जाएंगे. कोरोना संक्रमण की वजह से इस और अभी ध्यान नहीं गया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!