हरियाणा के कॉलेजों में शिक्षकों के लगभग साढ़े 4 हजार पोस्ट खाली, 80 कॉलेजों में प्रिंसिपल ही नहीं

चंडीगढ़ | हरियाणा के कॉलेजों में वर्कलोड के अनुसार, 4,500 शिक्षकों की कमी नजर आ रही है. इनमें सीधे तौर पर रेगुलर शिक्षकों के 2,570 पद रिक्त हैं, जबकि शेष खाली पदों पर एक्सटेंशन लेक्चरर कार्यरत हैं. वहीं, राज्य के 182 कॉलेजों में से लगभग 80 कॉलेज ऐसे हैं, जिनमें प्रिंसिपल ही नहीं है. दरअसल, प्रदेश के कॉलेजों में सरकार की ओर से शिक्षकों के स्वीकृत पदों की संख्या 7,986 है, जिनमें से 5,416 पदों पर शिक्षक काम कर रहे हैं.

HigherEduHry

कई सरकारी कॉलेजों में शिक्षकों और प्रिंसिपल क़े पद खाली

इन 5,416 में करीब 2,000 से ज्यादा एक्सटेंशन लेक्चरर काम कर रहे हैं. विशेष बात यह है कि कॉलेजों में प्रिंसिपल के सीधे पदों पर भी लंबे समय से भर्ती नहीं हुई है.

ऑल हरियाणा गर्वनमेंट कॉलेज टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अमित चौधरी ने कहा कि प्रदेश के कई सरकारी कॉलेजों में शिक्षकों और प्रिंसिपल क़े पद खाली हैं. लगभग 4,500 से ज्यादा शिक्षकों के पद खाली है. शिक्षकों के कुछ खाली पदों पर एक्सटेंशन लेक्चरर काम कर रहे हैं.

कॉलेजों में शिक्षा पर पड़ रहा असर

सरकार ने लंबे वक़्त से असिस्टेंट प्रोफेसर और प्रिंसिपल के पदों पर सीधी भर्ती नहीं की है. साथ ही, पदोन्नति से भरे जाने वाले पद भी खाली ही है. इसके चलते कॉलेजों में शिक्षा प्रभावित हो रही है.

वहीं, निदेशालय में शिक्षकों के रूटीन के कामकाज भी रुके पड़े हैं. इसे लेकर संगठन ने पिछले दिनों शिक्षा मंत्री से मुलाक़ात भी की थी. जिन्होंने विभागीय अधिकारियों के साथ जल्द बैठक का आश्वासन दिया था, लेकिन अभी तक बैठक को लेकर संगठन के पास कोई सूचना नहीं पहुंची है.

जिला स्वीकृत पद रिक्त
अंबाला 260 30
भिवानी 556 182
चरखी दादरी 97 42
फरीदाबाद 369 115
फतेहाबाद 244 80
गुरुग्राम 674 171
हिसार 710 213
झज्जर 425 116
जींद 513 159
कैथल 170 76
करनाल 485 115
कुरुक्षेत्र 82 17
महेंद्रगढ़ 824 371
नूह 134 86
पलवल 127 83
पंचकूला 346 66
पानीपत 144 66
रेवाड़ी 426 188
रोहतक 656 91
सिरसा 354 181
सोनीपत 256 90
यमुनानगर 134 54
कुल 7986 2570

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!