हरियाणा के यमुनानगर में खोले गए हथिनीकुंड बैराज के सभी गेट, दिल्ली की बढ़ी टेंशन

नई दिल्ली | सिंचाई विभाग द्वारा हरियाणा के यमुनानगर में स्थित हथिनी कुंड बैराज (Hathni Kund Barrage) के सभी गेट खोल दिए गए. हिमाचल प्रदेश और यमुना नदी के कैचमेंट एरिया में हुई भारी बारिश से यमुना नदी का जलस्तर बढ़ गया. जिस कारण सुबह 11 बजे तक हथिनी कुंड बैराज पर यमुना नदी का जलस्तर अधिकतम 39,205 क्यूसेक दर्ज किया. बैराज से छोड़ा गया पानी 72 घंटे के बाद राजधानी दिल्ली पहुंच जाएगा.

Hathni Kund Biraj Yamunagar

दिल्ली में नहीं है बाढ़ का खतरा

बता दें कि सेंट्रल वाटर कमीशन द्वारा अनुमान लगाया गया था कि अभी दिल्ली में बाढ़ का खतरा नहीं है, क्योंकि हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से अभी 25 से 30,000 क्यूसेक पानी ही छोड़ा जा रहा है. वहीं, दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली में बाढ़ के खतरे पर कहा कि यमुना के खतरे का निशान 205.33 मीटर है. अभी घबराने की जरूरत नहीं है.

आने वाले दिनों में बढ़ेगा जलस्तर

सिंचाई विभाग के एसडीओ नवीन रंगा ने जानकारी दी कि बैराज पर जब एक लाख क्यूसेक पानी दर्ज होता है, तो सारा पानी यमुना में छोड़ दिया जाता है. 1 लाख क्यूसेक पानी होने पर मिनी फ्लड और ढाई लाख क्यूसेक पानी आने पर बाढ़ घोषित कर दी जाती है. वर्तमान में स्थितियां सही हैं लेकिन आने वाले दिनों में जलस्तर बढ़ेगा

यमुना के जलस्तर पर है नज़र

‘आप’ नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि हम हरियाणा सरकार के संपर्क में है, यमुना के जलस्तर पर हम लगातार नजर बनाए हुए हैं. आईटीओ बैराज के भी 5 गेट खोले गए हैं. दिल्ली के लोगों को खबराने की जरूरत नहीं हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!