हरियाणा में ‘अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सहायता’ योजना शुरू, उद्योगों को पढ़ाया जाएगा सफाई का पाठ

चंडीगढ़ | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन को सफल बनाने के लिए प्रदेश स्तर पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा कई महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं. प्रदेश में पर्यावरण संरक्षण के लिए कई योजनाओं के जरिए काम किया जा रहा है. अब हरियाणा सरकार ने उद्योगों से निकलने वाले अपशिष्ट पदार्थों के प्रबंधन के लिए एक नई योजना शुरू की है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर स्वास्थ्य विभाग सतर्क, सभी जिलों में बरत रहे एहतियात

Webp.net compress image 11

हरियाणा सरकार ने औद्योगिक क्षेत्र के लिए ‘अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सहायता’ योजना अधिसूचित की है. जिसके तहत उद्योगों को कचरा संग्रहण, परिवहन, उपचार और निपटान जैसी अपशिष्ट प्रबंधन गतिविधियों के लिए प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा. इससे हरियाणा राज्य में उद्योगों के अपशिष्ट से हो रहे प्रदूषण और गंदगी को फैलने से रोका जा सकेगा.

यह भी पढ़े -   अब बाजार में मिलेगा ज्यादा सुरक्षित इलेक्ट्रिक मास्क, इलेक्ट्रिक मास्क तैयार

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सहायता योजना पहली जनवरी, 2021 से शुरू मानी जाएगी और पांच वर्ष की अवधि तक लागू रहेगी. इस योजना के तहत पहली जनवरी, 2021 को या उसके बाद और 31 दिसंबर, 2025 से पहले भूमि, मशीनरी और उपकरण की खरीद पर सहायता प्रदान की जाएगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!