50 हजार नई सरकारी भर्तियां होंगी शुरू, CET पास करने वालों को ही मिलेगा मौका

चंडीगढ़ । जल्द ही हरियाणा में लगभग 50 हज़ार सरकारी नौकरी की भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी. तथा इस प्रक्रिया में केवल वही उम्मीदवार हिस्सा लेंगे जिन्होंने कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट को पास किया होगा. एक टेस्ट के जरिए आवेदन करने वालों की भीड़ छठ जाएगी. लगभग 5000 सिपाहियों के पदों पर भर्ती के लिए साढ़े 3 लाख से ज्यादा युवाओं के आवेदन के बाद हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने पहले ही चरण में अनिवार्य कर दिया है.ऐसा करने से आवेदकों की भीड़ को नियंत्रित किया जा सकेगा. परीक्षा के अंको में भी बदलाव किया गया है पहले लिखित परीक्षा 90 अंकों की होती थी जो अब 95 अंको की कर दी गई है. ऐसी परीक्षाएं जिनके लिए पद विज्ञापित हो गए थे लेकिन परीक्षा आयोजित नहीं हुई थी उन सब को रद्द कर दिया गया है.कुल 9343 भर्तियों को वापस किया गया है जिनकी परीक्षाएं फरवरी में होने वाली थी. अब यह भर्तीऔर नए सिरे से की जाएंगी. इन भर्तियों में अब केवल वही लोग शामिल होंगे जिन्होंने CET पास किया होगा. नया फार्म भरते समय उम्मीदवारों की आयु वही मानी जाएगी जो उन्होंने पहले फार्म भरा था जब थी.

यह भी पढ़े -   छात्राओं के लिए खुशखबरी, इन रुटों पर स्पेशल बसें चलाएगा रोड़वेज विभाग

HSSC

एचएसएससी के चेयरमैन भोपाल सिंह खदरी के अनुसार अभी 117 कैटेगरी की परीक्षाएं निकल चुकी है. तथा उनमें से 86 का दस्तावेज सत्यापन किया जा चुका है. उनका कहना है कि सरकार की तरफ से 30 हज़ार नई पदों पर भर्ती के लिए अनुरोध पत्र आयोग के पास आए हैं. इनमें से 21हज़ार भर्तियां सिगरेट की और 9 हज़ार भर्तियां डी ग्रेड की है.

नए नियमों के अनुसार होंगी भर्तियां

आयोग का कहना है कि अब देश में जितने भी सरकारी भर्तियां होंगी उनके लिए सामाजिक आर्थिक मानदंड के नए निर्धारित अंकों का लाभ दिया जाएगा. अब 10 की बजाय कहां से मिलेंगे. विवाहित लड़की का परिवार उसका ससुराल होगा जबकि अविवाहित लड़की का परिवार उसका मायका होगा.

ऐसी भर्तियां जिनका रिजल्ट बारिश हो चुका है और डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन का काम चल रहा है उन्हें पुराने नियम लागू होंगे.

यह भी पढ़े -   वर पक्ष ने दहेज में लिया ऐसा सामान, हर कोई दें रहा हैं इस शादी की मिसाल

अनुभव के अंक 8 से बढ़ाकर चार कर दिए गए हैं.

नए नियमों के अनुसार है आवेदक केवल एक कैटेगरी में ही अतिरिक्त अंकों का लाभ ले सकता है.

रिजल्ट घोषित करने में अब कोई बाधा नहीं

अध्यक्ष के बयान के अनुसार रिजल्ट धांधली के कारण जारी करने में देरी हो रही थी. बहुत से युवा ऐसे हैं जिनमें सामाजिक आर्थिक मानदंड के आधार पर गलत नंबर हासिल किए हैं. जिन्होंने गलत नंबर लिए उन युवाओं को अपनी गलती सुधारने के लिए मौका भी दिया गया जिसमें से 750 लोगों ने अपनी सहमति से नंबर वापस ले लिए. हमने भर्तियों में भी फर्जी नंबर लेने वालों की जांच चल रही है. आयोग का कहना है कि 22 जनवरी तक दस्तावेज सत्यापन का काम पूरा हो जाएगा तथा उसके बाद रिजल्ट जारी होना शुरू होंगे. सबसे पहले पैरामेडिकल स्टाफ की भर्तियों का रिजल्ट जारी होगा.

यह भी पढ़े -   सरसों तेल के दाम में गिरावट का दौर जारी, बाजार विशेषज्ञों ने जताया ये अनुमान

आयोग ने ग्रुप सी के 5321 पदों की भर्ती वापस ली

एसएससी द्वारा 2018 के बाद निकाली गई ग्रुप सी के 5321 पदों की भर्ती को वापस ले लिया है. आवेदकों को परीक्षा फार्म के साथ भरी हुई फीस को वापस लौटा दिया जाएगा. आयोग ने घोषणा की है कि वर्ष 2018 और उसके बाद ऐसे सभी पद जो विद्यापित हो चुके हैं लेकिन परीक्षा नहीं हुई है वो वापस ले लिए हैं. हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने लगभग डेढ़ दर्जन महकमों के लिए चल रही भर्ती प्रक्रिया को रद्द करने के आदेश जारी किए हैं. इन पदों में फायर ऑपरेटर कम ड्राइवर के 1646 पद, पटवारी के 588, कैनल पटवारी के 1100, ग्राम सचिव के 497, कोऑपरेटिव सोसाइटी में सब इंस्पेक्टर जनरल के 409 पद, लोक निर्माण विभाग में इलेक्ट्रीशियन के 115 और कौशल विकास पूर्व औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग के 237 पद शामिल है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!