दक्षिण अफ्रीका में ओमीक्रोन के बाद रहस्यमय बीमारी का कहर, 89 लोगों की मौत

नई दिल्ली । दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के सामने आने पर अब वहां फैल रही एक रहस्यमई बीमारी लोगों को डरा रही है. इस बीमारी से दक्षिण सूडान के जोंगलेई राज्य के उत्तरी शहर फांगक में अब तक 89 लोग अपनी जान गंवा चुके है. ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) दहशत में हैं और उसकी चिंता और बढ़ गई है. दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि नई बीमारी बड़ी मुसीबत बन सकती है क्योंकि यह चकमा दे रही है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार ने नई कोरोना गाइडलाइंस जारी की, जानें किन्हें मिली छूट और किन पर रहेगी पाबंदियां

corona antim sanskar

एक विदेशी न्यूज़ चैनल में छपी खबर के अनुसार WHO ने इस बीमारी से ग्रस्त लोगों के सैंपल लेने के लिए वैज्ञानिकों की एक रैपिड रिस्पांस टीम को इस क्षेत्र में भेजा है. बता दें कि पूरी दुनिया में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का खतरा बढ़ता ही जा रहा है. कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का पहला केस 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से ही सामने आया था जब यहां बोत्सवाना से लौटें एक व्यक्ति में इस वैरिएंट के लक्षण मिलें थे.

तब से लेकर अब तक कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के केस 77 से भी अधिक देशों से सामने आ चुके हैं. यानि तीन सप्ताह में ही कोरोना का यह वैरिएंट जबरदस्त रफ्तार से फैला है. हालांकि इससे पैदा होने वाले खतरें को लेकर लगातार नई जानकारियां सामने आ रही है.

यह भी पढ़े -   पड़ोसी पर नजर रखकर 500 से 10,000 तक कमाएं, हिसार नगर निगम का अब तक का सबसे बड़ा ऑफर

वैज्ञानिकों की ओर से दी गई सबसे ताजा जानकारी ये है कि ओमिक्रॉन के इस वेरिएंट की रफ्तार जरूर डेल्टा के मुकाबले काफी तेज है, लेकिन इससे पैदा होने वाली जटिलताएं डेल्टा के मुकाबले काफी कम हैं. वैज्ञानिकों की रैपिड रिस्पांस टीम अब दक्षिण अफ्रीका में फैली इस नई बीमारी की गुत्थी सुलझाने में लगीं हुई है और हर एक पहलू पर बारीकी से अध्ययन कर रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!