हरियाणा पैरा ओलंपिक खिलाड़ियों के सम्मान में पैसों की बारिश, 19 खिलाड़ियों में वितरित हुई 27 करोड़ की धनराशि

गुरुग्राम | हरियाणा राज्य खेलों में पूरे देश के लिए प्रेरणा स्रोत बन कर उभरा है. जापान की राजधानी टोक्यो में इस साल आयोजित हुए ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों में राज्य के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन कर देश के नाम कई पदक किए. खिलाड़ियों की मेहनत और प्रदर्शन को देखते हुए मनोहर सरकार की ओर से खिलाड़ियों को सम्मानित करने के साथ-साथ पुरस्कार राशि प्रदान की गई.

Paralympic

हरियाणा सरकार की ओर से फरीदाबाद में टोक्यो पैरा ओलंपिक में पदक जीतने और प्रतिभाग करने खिलाड़ियों के लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया गया. इस दौरान देश के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी मौजूद रहे. सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए उपराष्ट्रपति ने खिलाड़ियों की जमकर सराहना की और स्थानीय स्तर पर विकलांग खिलाड़ियों की प्रतिभा पर ध्यान देने की आवश्यकता पर जोर दिया. वहीं मुख्यमंत्री ने कहा, पैरा ओलंपिक खिलाड़ी समाज के लिए प्रेरणा स्रोत है.

यह भी पढ़े -   फरीदाबाद में रफ्तार का कहर, शराब के नशे में एक कार चालक ने 6 लोंगो को कुचला

19 खिलाड़ियों में 27 करोड़ की राशि वितरित

सम्मान समारोह में पैरा ओलंपिक खेलों में पदक जीतने और प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों को पुरस्कार राशि से भी सम्मानित किया गया. 19 खिलाड़ियों में 27 करोड़ से अधिक धनराशि वितरित की गई. हरियाणा सरकार की ओर से पैरा ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को 6 करोड़, रजत पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को 4 करोड़, कांस्य पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को 2.5 करोड़, चौथे स्थान पर रहने वाले खिलाड़ियों को 50 लाख और प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों को 15-15 लाख की धनराशि दी गई.

जानिए किन खिलाड़ियों को मिली पुरस्कार राशि

सम्मान समारोह के दौरान पैरालंपिक में शूटिंग (मिक्सड पी4 50 मीटर पिस्टल) कैटेगरी में स्वर्ण पदक विजेता मनीष नरवाल और जेवलिन एफ-64 में स्वर्ण पदक विजेता सुमित अंतिल को 6-6 करोड़ रुपये की राशि पुरस्कार स्वरूप दी गई. डिस्क थ्रो में रजत पदक विजेता योगेश कथुनिया को 4 करोड़ रुपये, शूटिंग (मिक्सड पी4 50 मीटर पिस्टल) कैटेगरी में रजत पदक विजेता व पुरुष शूटिंग (पी1 10 मीटर एयर पिस्टल) कैटेगरी में कांस्य पदक विजेता सिंह राज अधाना को 4 करोड़ रुपये व 2.5 करोड़ रुपये तथा तीरंदाजी में कांस्य पदक विजेता हरविंदर सिंह को 2.5 करोड़ रुपये की राशि पुरस्कार स्वरूप दी गई.

यह भी पढ़े -   स्पा सेंटर में शराबियों का उत्पात, लड़कियों ने लाठी-डंडों से उतारा नशा

वहीं, पैरालंपिक में चौथे स्थान पर आने वाले तरूण ढिल्लों, नवदीप सिंह और विनोद कुमार को 50-50 लाख रुपये दिए गए. इसी प्रकार, प्रतिभागी खिलाड़ियों, अरुणा तंवर, दीपक सैनी, राहुल जाखड़, जयदीप देसवाल, रणजीत भट्टी, रामपाल, धरमबीर, अमित कुमार सरोहा, टेकचंद, अरविंद मलिक, एकता भयान को 15-15 लाख रुपये प्रोत्साहन राशि स्वरूप वितरित किए गए. बता दें कि हरियाणा राज्य ने अन्य राज्यों के मुकाबले खिलाड़ियों को सबसे अधिक पुरस्कार राशि दी.

यह भी पढ़े -   CSK vs KKR IPL 2021 FINAL: शानदार होगी फाइनल की जंग, किसके सिर सजेगा चैंपियन का ताज

जानकारी के लिए बता दें कि टोक्यो पैरालंपिक खेलों का आयोजन अगस्त के महीने में हुआ, इसमें 54 पैरा-एथलीटों के साथ भारत ने हिस्सा लिया था. भारत ने इसमें 5 स्वर्ण पदक, 8 रजत पदक और 6 कांस्य पदक सहित कुल 19 पदक जीते हैं. जिसमें हरियाणा के 5 खिलाड़ियों ने कुल 6 पदक हासिल किए हैं, जिसमें 2 स्वर्ण, 2 रजत और 2 कांस्य पदक शामिल हैं. ओलंपिक व पैरालंपिक में पदक तालिका में भारत का स्थान क्रमशः 48 वें और 25 वां रहा है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!