धरने पर बैठे किसानों से बात करेगी हरियाणा सरकार, कोरोना के बारे में करेगी जागरूक

चंडीगढ़ । हरियाणा में कोरोना संक्रमण के लगातार तेजी से बढ़ रहे मामलों के बीच अब हरियाणा सरकार धरने प्रदर्शन पर बैठे किसानों को संक्रमण से बचाने हेतु तैयारियों में लग गई है. स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के अनुसार हरियाणा की सीमाओं पर धरना दे रहे किसानों के साथ स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मीटिंग करेंगे. इस मीटिंग में किसानों को कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण की जांच और वैक्सीनेशन के संबंध में जानकारियां दी जाएंगी. विभाग किसान नेताओं की सहमति के पश्चात ही अपना कार्य आरंभ करेगा.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, मनमानी रोकने के लिए निजी अस्पतालों का प्रबंधन खुद संभालेगी सरकार

kisan aandolan

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि धरना प्रदर्शन करने वाले किसानों को भी कोरोना वैक्सीन लगवानी चाहिए. उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन अपनी जगह है और सुरक्षा अपनी जगह हैं. एसपी और डीसी सरकार की ओर से किसान नेताओं से मिलने गए थे. परंतु वार्ता नहीं हो पाई. फिर भी आगे भी किसान नेताओं से अधिकारी मिलेंगे और वार्तालाप करेंगे. जिससे किसानों को भी कोरोना वायरस से बचाव हेतु वैक्सिन लगाई जा सके और उनका भी करोना टेस्ट किया जा सके.

यह भी पढ़े -   खुशखबरी: अब हरियाणा के कॉलेजों में वैकल्पिक विषय के रूप में मिलेगी NCC

स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के अनुसार बड़ी संख्या में लोग कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण दिखाई देने के बाद भी यहां-वहां से दवाइयां कर खा रहे हैं. इसी वजह से कोरोना संक्रमण और अधिक फैल रहा है. हरियाणा सरकार ने आदेश जारी किए हैं कि जिस व्यक्ति को कोरोना वायरस के लक्षण है, यदि वह किसी निजी डॉक्टर के पास जाता है, तो अपना कोई भी इलाज कराने से पूर्व कोरोना जांच करवाएं, रिपोर्ट के नेगेटिव आने पर ही आगे का उपचार करें. यदि व्यक्ति की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आती है, तो मरीज को कोरोना हॉस्पिटल भेजें.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!