हरियाणा में बढ़ा कोरोना का खतरा, जानिए कितने हुए ओमिक्रोन के केस

चंडीगढ़ | देश में कोरोना और ओमिक्रोन के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. इसके साथ ही हरियाणा में भी कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ते ही जा रहे हैं. बता दें कि बुधवार के दिन प्रदेश में कोविड-19 के मामलों की संख्या बढ़कर लगभग दोगुनी हो गई है. इस दौरान हरियाणा में कुल 217 मामले सामने आए हैं. जिसमें से 151 केस गुरुग्राम से आए हैं. गौरतलब है कि पिछले 6 महीनों में यह सबसे अधिक संख्या है. अभी तक प्रदेश में इस बीमारी के कारण मौत होने की कोई ताजा खबर सामने नहीं आई है.

corona

हरियाणा में बढ़ता कोरोना का खतरा

आपको बता दें कि हरियाणा में कोरोनावायरस बढ़ता ही जा रहा है मंगलवार को राज्य में संक्रमण के 126 नए मामले सामने आए थे वहीं बुधवार के दिन कुल 217 मामले सामने आए हैं. इस दौरान फरीदाबाद में 30 नए मामले पाए गए हैं. वहीं इस दौरान राज्य में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 627 से बढ़कर 803 हो गई है. जबकि ठीक हो तू के मरीजों की संख्या 7,62,172 है. स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में बताया गया है कि मरीजों की ठीक होने की दर 98.59 प्रतिशत है.
हरियाणा में कुल कोविड संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7,73,061 हो गई है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक, मरने वालों की संख्या 10,063 पर स्थिर है. वहीं, राज्य के गुरुग्राम से ओमिक्रोन के दो मामले सामने आए हैं.

गुरुग्राम में सबसे अधिक कोरोना के केस

आपको यह भी बता दे कि हरियाणा के गुरुग्राम में दो और लोगों की जांच में वायरस के ओमिक्रोन स्वरूप से संक्रमण की पुष्टि हुई है. अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि इसके साथ ही जिले में उम्मीद क्रोन संक्रमण के मामले बढ़कर 3 हो गए हैं. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 58 वर्षीय एक महिला और 31 वर्षीय पुरुष नवमी कौन से संक्रमित पाए गए हैं इन दोनों को टीके की दोनों खुराक भी लगी हुई थी और उन्होंने कोई विदेश यात्रा नहीं की है वहीं हरियाणा में ओमिक्रोन के कुल मामले अब बढ़कर 16 हो गए हैं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के इस गांव में अनोखा मंदिर, जहां 22 सालों से हों रही है शहीदों की पूजा

हरियाणा में नाइट कफर्यू लागू

बता दें कि हरियाणा सरकार ने कोविड-19 विक्रम के बढ़ते मामलों को देखते हुए 24 दिसंबर से हरियाणा में लाइट कर्फ्यू लगा दिया था मनोहर लाल खट्टर सरकार ने रात 11:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक कर्फ्यू लागू कर रखा है. इस बीच आवाजाही पर रोक के साथ किसी भी जगह लोगों के एकत्रित होने की अनुमति नहीं है. वहीं 1 जनवरी 2022 से सार्वजनिक जगहों पर उन लोगों की एंट्री होगी जीने वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लगी होंगी. प्रदेश सरकार कोरोना से बचाव के लिए हर संभव पाबंदियां लगा रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!