इस सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों के हौंसले को सलाम, खुद पॉजिटिव होते हुए भी कर रहे हैं संक्रमितों का इलाज

चरखी दादरी । हरियाणा के चरखी दादरी जिलें में एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला है. बता दें कि यहां के सिविल अस्पताल में कोरोना संक्रमित डॉक्टर ही कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे हैं. पड़ताल में सामने आया कि इस अस्पताल में डॉक्टरों की कमी है और इस अस्पताल के एक दर्जन फ्रंटलाइन वॉरियर संक्रमित हैं जो स्वयं के साथ-साथ संक्रमित मरीजों का भी इलाज कर रहे हैं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के किसान का कमाल, रेतीली जमीन पर उगा दिए खजूर- हल्दी

corona 1

वहीं इस बारे में जब डॉक्टरों से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इससे दूसरे डाक्टरों के संक्रमित होने का खतरा भी नहीं होगा और डाक्टरों की कमी भी आड़े नहीं आएगी. हालांकि सीएमओ ने बताया कि संक्रमित डॉक्टर नॉर्मल है और कोई खास दिक्कत नहीं है. बता दें कि जनवरी से ही चरखी दादरी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है और जिलें में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 291 तक पहुंच गई है.

जो संसाधन हैं उन्हीं से काम चलाया जा रहा है

जिस तरह से कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या का आंकड़ा बढ़ रहा है और डाक्टरों की कमी है, उसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की चिंता भी बढ़ गई है. डाक्टरों की कमी के चलते परेशानी ज़रुर खड़ी हो रही है लेकिन फिर भी जो संसाधन हैं उन्हीं के सहारे काम चलाया जा रहा है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के किसान का कमाल, रेतीली जमीन पर उगा दिए खजूर- हल्दी

सीएमओ ने कही ये बात

सीएमओ डॉ सुदर्शन पंवार ने बताया कि चार डाक्टरों सहित एक दर्जन फ्रंटलाइन वॉरियर कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. हालांकि फ्रंटलाइन वॉरियर वैक्सीन के सहारे कोरोना से जंग जीतने में लगे हुए हैं. उन्होंने बताया कि डाक्टरों के हौसले की तारीफ करते हैं जो खुद संक्रमित होते हुए भी संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!