हरियाणा में स्कूलों को लेकर शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर का बड़ा बयान, जाने क्या

नारनौल । शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर परस बाल गोपाल गौशाला मुकुंदपुरा में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. शिक्षामंत्री द्वारा मेधावी छात्रों को सम्मानित किया गया. कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि यहां के अध्यापकों द्वारा पूरी मेहनत के साथ बेहतरीन कार्य किया गया है. उसका परिणाम इन बच्चों ने अच्छे अंक हासिल करके दिया है.

साथ ही कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि आने वाले समय में प्रदेश में हर 10 किलोमीटर की दूरी पर एक संस्कृति मॉडल स्कूल खोला जाएगा. ताकि गरीब बच्चे भी अच्छी शिक्षा हासिल कर सके. इस मौके पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री ओमप्रकाश यादव भी मौजूद रहे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा की पहली जेल जहां 24 घंटे में ही कोरोना पॉजिटिव मिले 134 कैदी

education minister at narnaul

मेधावी छात्रों को किया सम्मानित 

उन्होंने ग्रामीणों से भी आहान किया कि वे शिक्षकों का सम्मान व सहयोग करें,  ताकि वह इसी मेहनत के साथ कार्य करते रहें. ग्रामीणों द्वारा कॉलेज खोलने की मांग रखी गई. उन्होंने कहा कि वह नियम अनुसार इस कार्य को करने की पूरी कोशिश करेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के नियमों को ध्यान में रखते हुए ही आगे इस कार्य पर विचार किया जाएगा.

यह भी पढ़े -   अभिभावकों को बड़ी राहत, अब निजी स्कूल छात्रों पर नहीं थोप सकेंगे प्राइवेट पुस्तक

 किसान आंदोलन पर दिया बयान 

वही कंवरपाल गुर्जर ने कहा कि सरकार ने किसानों के सामने बर्फी की प्लेट रखी है किसान चाहे तो बर्फी खा सकते हैं,  अगर वह नहीं खाना चाहे तो मना कर सकते हैं. तीन कृषि कानून भी कुछ इसी तरह के है. उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों के सामने फसल बेचने के नए द्वार खोल दिए हैं.

यह भी पढ़े -   खुशखबरी: अब हरियाणा के कॉलेजों में वैकल्पिक विषय के रूप में मिलेगी NCC

ताकि उन्हें उनकी फसलों के उचित रेट मिल सके. इसके जरिए किसान   नए ग्राहक बनाने का कार्य कर सकेंगे. किसानों को अगर उचित लगे तो वह यहां भी फसल बेच सकते हैं. अगर नहीं तो जहां उन्हें अच्छे दाम मिले, वहां फसल बेच सकते हैं. इसी प्रकार किसानों के पास दोनों ऑप्शनस है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!