मोदी सरकार ने दी देशवासियों को बड़ी सौगात, सितंबर से हर महीने चलेगी 4 नई वंदे भारत ट्रेन

नई दिल्ली | केन्द्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने देशवासियों को बड़ा तोहफा दिया है. उन्होंने बताया कि देश में विभिन्न शहरों के बीच कनेक्टिविटी मजबूत करने के लिए 400 वंदे भारत ट्रेनों को चलाने की योजना को अमलीजामा पहनाने की तैयारियां तेज हो गई है. उन्होंने बताया कि सितंबर से हर महीने 4 नई वंदे भारत ट्रेनों को ट्रेक पर उतारा जाएगा.

bullet train

2019 में चली थी पहली वंदे भारत ट्रेन

बता दें कि देश की पहली वंदे भारत ट्रेन नई दिल्ली से वाराणसी के बीच चली थी जिसको 15 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था. उसी साल 3 अक्टूबर को केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली-कटरा वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी. पीएम मोदी ने आजादी के अमृत महोत्सव के मौके पर 75 वंदे भारत ट्रेन चलाने की घोषणा की थी लेकिन बाद में केन्द्रीय बजट में इनकी संख्या का आंकड़ा बढ़ाकर 400 किया गया है.

रेल मंत्री ने की थी घोषणा

बता दें कि पिछले दिनों रेल मंत्री ने दिल्ली से खजुराहो के बीच वंदे भारत ट्रेन शुरू करने की घोषणा की थी. साथ ही दिल्ली से जयपुर, इंदौर, लखनऊ, चंडीगढ़ , अमृतसर व अन्य कई शहरों के बीच वंदे भारत ट्रेन चलाने की योजना पर काम चल रहा है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि दिल्ली से एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन होने के कारण यहां तेज गति वाली ट्रेनों के रखरखाव की व्यवस्था पहले से ही है. इससे यहां से नई वंदे भारत ट्रेनों के संचालन में आसानी होगी.

यह भी पढ़े -   बिकने जा रहे है ये दो बड़े सरकारी बैंक, कहीं आपका भी खाता तो नहीं इस बैंक में

ज्यादा सुविधाजनक होगी सीटें

कई यात्रियों की शिकायतें सामने आ रही थी कि शताब्दी एक्सप्रेस के मुकाबले वंदे भारत ट्रेन की सीटें कम सुविधाजनक है. इसलिए नई वंदे भारत ट्रेनों में यात्रियों की सुविधा का ख्याल रखते हुए इसकी सीट और डिजाइन में बदलाव किया जा रहा है. अब ये सीटें घुमावदार होगी. रेल मंत्री ने बताया कि 200 वंदे भारत ट्रेनों में राजधानी और अन्य ट्रेनों की तरह स्लीपर की व्यवस्था होगी, जिस पर लगभग 24 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे.

यह भी पढ़े -   Delhi Corona News: दिल्ली में फिर बेकाबू होने लगा कोरोना, 9 जिलें रेड जोन घोषित

180 km/hour है अधिकतर रफ्तार

इस ट्रेन की अधिकतम रफ़्तार 180 किलोमीटर प्रति घंटे की है. यह ट्रेन बेहद कम समय में यात्रियों को अपने गंतव्य स्थान पर पहुंचा देती है. राजधानी एक्सप्रेस जहां दिल्ली से जम्मू तक पहुंचने में साढ़े 8 घंटे का समय लेती है वहीं वंदे भारत सिर्फ 6 घंटे 40 मिनट में यह सफर तय कर लेती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!