हरियाणा सरकार की नई टेक्सटाइल पॉलिसी लाएगी चार हजार करोड़ का निवेश, 20 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

चंडीगढ़ | सूबे के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला मंगलवार को दिल्ली दौरें पर रहे, जहां उन्होंने हरियाणा भवन में ‘हरियाणा आत्मनिर्भर वस्त्र नीति-2022’ के प्रारुप को लेकर मंत्रिमंडलीय उपसमिति की बैठक की अध्यक्षता की. इस दौरान उनके साथ श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक और कृषि मंत्री जेपी दलाल भी मौजूद रहे.

Dushyant Choutala

बैठक के दौरान उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इस नीति के लिए तैयार किए गए ड्राफ्ट पर विचार- विमर्श किया. बैठक के बाद जानकारी देते हुए चौटाला ने बताया कि राज्य सरकार प्रदेश में एमएसएमई के माध्यम से टेक्सटाइल उद्योग को बढ़ावा देने की तैयारियों पर तेजी से काम करेगी और इसके लिए जल्द ही हरियाणा आत्मनिर्भर वस्त्र नीति-2022 को लागू किया जाएगा.

दुष्यंत चौटाला ने बताया कि आज की बैठक में ‘हरियाणा आत्मनिर्भर वस्त्र नीति-2022’ के लक्ष्य, उद्यमिता विस्तार, निवेश, रोजगार सृजन, अनुदान, टेक्सटाइल पार्क व अन्य संबंधित विषयों पर चर्चा हुई. उन्होंने बताया कि इस नीति के अंतर्गत टेक्निकल टेक्सटाइल को विशेष रूप से प्रोत्साहित कर विस्तार दिया जाएगा और इसके साथ ही सिंथेटिक फाइबर व रीजेनरेटेड फाइबर इकाइयों को प्रोत्साहित किया जाना भी इस नीति में शामिल किया गया है.

यह भी पढ़े -   राहत भरा रविवार, पेट्रोल- डीजल की कीमतों में कटौती, जानें नया रेट

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि अब इस नीति को अनुमोदन के लिए मंत्रिमंडल के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा और वर्ष 2025 तक की समय अवधि के लिए तैयार की गई इस नीति से करीब चार हजार करोड़ रुपये का निवेश तथा 20 हजार युवाओं को रोजगार मिलने का अनुमान है.

यह भी पढ़े -   SSSC Jobs: पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में आई क्लर्क के पदों पर भर्ती, ऑनलाइन करे आवेदन

दुष्यंत ने कहा कि इस नीति से प्रदेश में रोजगार की अपार संभावनाएं पैदा होगी. चौटाला ने कहा कि प्रदेश सरकार ने औद्योगिक माहौल में सुधार के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं जिससे पिछले कुछ सालों में राज्य में उद्योग लगाने में निवेशक रुचि दिखा रहे हैं. हमारी सरकार प्रदेश में अधिक से अधिक उद्योग स्थापित हो सकें, इसके लिए हरसंभव प्रयास कर रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!