हरियाणा के गृहमंत्री का बड़ा निर्णय, अब जनता की समस्याओं को सुनने के लिए इस माध्यम का होगा प्रयोग

चंडीगढ़ | हरियाणा में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने बड़ा फैसला लिया है. बता दें कि हरियाणा के गृहमंत्री जन समस्याओं को पहले अपने आवास पर सुनकर उनका समाधान करते थे. लेकिन अब कोरोना संक्रमण प्रदेश में तेजी से फैल रहा है. जिसके कारण राज्य में तमाम आवश्यक पाबंदियां भी लगाई जा चुकी है. इसके बाद अब अनिल विज ने यह प्रमुख घोषणा की है.

anil vij

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रमुख निर्णय लिया है. जिसके फलस्वरूप अब वह जनसमस्याओं को अपने आवास पर नहीं सुनेंगे. इसके लिए अब डाक और ईमेल के माध्यम से जन समस्याओं का समाधान किया जाएगा. ताकि जनता की समस्याओं का समाधान तत्काल प्रभाव से हो सके. आपको बता दें कि राज्य के गृहमंत्री प्रतिदिन अपनी आवाज पर सैकड़ों लोगों की समस्याओं को पहले सुनते थे.

हरियाणा में अब साप्ताहिक जनता दरबार नहीं लग पाएंगे

हरियाणा राज्य में जनता की समस्या सुनने के लिए राज्य के गृह मंत्री अनिल विज पहले प्रदेशभर की समस्याओं को सुनने के लिए हर सप्ताह शनिवार के दिन जनता दरबार लगाते थे. बता दें कि जिस में पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस पर सैकड़ों लोग अपनी समस्याओं को लेकर पहुंचते थे. लेकिन अब प्रदेश में करुणा के बढ़ते खतरे के कारण इसे भी बंद कर दिया गया था. इसके बाद सभी लोग अपनी समस्याओं को लेकर अनिल विज के घर शास्त्री कॉलोनी में जाते थे. लेकिन इसको भी आगामी आदेशों तक बंद कर दिया गया है.

यह भी पढ़े -   राज्यपाल दत्तात्रेय ने कोरोना से बचाव के लिए 'रेड क्रॉस सोसायटी' द्वारा तैयार 4000 किट भेजी

गृहमंत्री अपने निवास पर सुनते थे जनता की समस्या

बता दें कि हरियाणा के गृह मंत्री ने कुछ दिन पहले अपने आवास पर तीन अलग-अलग महिला फरियादियों की शिकायत सुनते हुए, उसके समाधान के लिए एसआईटी को गठित कर जांच करने के आदेश दिए थे. जिसके बाद लोग अपनी समस्याएं लेकर ज्यादा संख्या में गृहमंत्री के आवास पर आने लगे. राज्य में कोरोना व ओमिक्रोन के खतरे को देखते हुए, अब जनता की समस्याओं को ईमेल तथा डाक के माध्यम से सुना जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!