सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने प्रदेश सरकार को पत्र लिखा, दिवाली से पहले बकाया वेतन देने की मांग रखी

चंडीगढ़ | सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने प्रदेश सरकार को अक्टूबर का वेतन  दिवाली से पहले देने के लिए पत्र लिखा. कर्मचारी व पूर्व कर्मचारी इसी 29 तारीख को वेतन व पेंशन चाहते हैं. अभी तक वेतन दिवस घोषित न होने से कर्मचारियों और पेंशनर्स में रोष है. संघ के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष लांबा व महासचिव सतीश सेठी ने कहा कि केंद्र के आदेश के बावजूद अभी तक एक महीने के वेतन बराबर तदर्थ बोनस का पत्र राज्य सरकार ने जारी नहीं किया है. इससे कर्मचारियों में नाराजगी है.

FotoJet 3

जानिए क्या है पत्र लिखने का कारण

इसलिए 29 अक्तूबर को वेतन दिवस घोषित कर सभी अधिकारियों, कर्मचारियों, कच्चे कर्मियों व पेंशनर्स को वेतन, पेंशन सुनिश्चित किया जाए. उन्होंने 22 अक्तूबर को पत्र लिखा था, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई न होने पर कर्मचारी निराश हैं. पत्र की प्रति मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान साचिव, प्रधान साचिव, अतिरिक्त प्रधान सचिव, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य साचिव व मुख्य सचिव को भी भेजी थी.

कर्मचारियों के यह है, प्रमुख तर्क

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर अक्टूबर मास का वेतन व पेंशन का भुगतान दीवाली से पहले 29 तारीख को करने की मांग की थी. परंतु अभी तक वेतन दिवस के आदेश जारी न होने से कर्मचारी व पेंशनर्ज निराश है. सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान सुभाष लाम्बा व महासचिव सतीश सेठी ने कहा कि 4 नवम्बर,2021 को दीवाली का पर्व है. इससे पहले 30 व 31 अक्टूबर को शनिवार व रविवार तथा 1 नवम्बर को हरियाणा दिवस के राजपत्रित अवकाश है. दीवाली से पहले केवल 2 व 3 नवम्बर को कार्य दिवस है.उसके बाद फिर 5 नवम्बर का वैकल्पिक अवकाश तथा 6-7 नवम्बर का  शनिवार व रविवार के राजपत्रित अवकाश है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा की भीम रसोई के तीन परांठे खाइए, लाखों का इनाम पाइए

इसलिए 29 अक्टूबर , 2021 को मास अक्टूबर का वेतन दिवस घोषित कर सभी अधिकारियों, कर्मचारियों, कच्चे कर्मियों  व पेंशनर्ज को वेतन तथा पेंशन का भुगतान सुनिश्चित किया जाए. उन्होंने कहा कि 22 अक्टूबर को पत्र लिखा था. परंतु अभी तक कोई कार्यवाही न होने पर कर्मचारी निराशा व परेशान है कि त्योहार पर बच्चों के लिए खरीददारी कैसे करेंगे. एसकेएस ने वेतन के साथ ही पत्र में यह भी मांग की थी कि केंद्र सरकार की तर्ज पर एक मास के वेतन के बराबर बोनस भी सभी पक्के व कच्चे कर्मचारियो को देने की घोषणा दीवाली से पहले कर भुगतान किया जाए.

यह भी पढ़े -   कपास के भाव हुए कम, जानिए पिछले दिनों की तुलना में कितने घटे भाव

इससे जहां वेतन भोगियों को महंगाई से राहत मिलेगी, वहीं खरीददारी बढ़ने से बाजार की अर्थव्यवस्था में भी सुधार होगा. पत्र की प्रति मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान साचिव व मुख्य साचिव हरियाणा सरकार के साथ ही मुख्यमंत्री के  प्रधान साचिव, अतिरिक्त प्रधान साचिव सहित वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य साचिव को भी भेजी गई थी. लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के एएसआई राजेश कुमार ने किया ऐसा सराहनीय कार्य, पुलिस डीजीपी ने भी की प्रशंसा

हम सभी जानते हैं कि दिवाली के पर्व पर खरीदारी करना शुभ माना जाता है. इसी प्रमुख बात पर बल देते हुए सर्व कर्मचारी संघ ने अपना वेतन सरकार से मांगने के लिए पत्र लिखा. कर्मचारियों का अक्टूबर महीने का वेतन अभी तक उनके खातों में ना आने के कारण सभी कर्मचारियो में रोष देखा जा सकता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!