मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का उड़ाया गया मजाक, ओलंपिक मेडलिस्ट ने स्कूल मान्यता रद्द करने की रखी मांग

फतेहाबाद | हरियाणा के टोहाना में स्थित सेंट मेरी स्कूल में बच्चों के कार्यक्रम में रामलीला का मंचन किया गया था. इस कार्यक्रम के दौरान भगवान श्री राम का मजाक उड़ाया गया है. सोशल मीडिया पर यह मामला काफी विस्तार ले रहा है. ओलंपिक मेडलिस्ट योगेश्वर दत्त ने स्कूल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की हैं.

Yogeshwar Dutt

जाने क्या है पूरा मामला

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही है. जिसमें सेंट मैरी स्कूल के बच्चों के कार्यक्रम के दौरान भगवान श्रीराम का मजाक उड़ाया गया है. इसके संदर्भ में 2012 के लंदन ओलंपिक के ब्रांनज मेडलिस्ट योगेश्वर दत्त ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया है. उन्होंने इस कार्यक्रम का वीडियो पोस्ट करते हुए यह मांग की है कि तत्कालीन प्रभाव से स्कूल की मान्यता रद्द कर दी जाने की जरूरत है.

यह भी पढ़े -   अंत्योदय परिवार उत्थान मेलों से बढ़ेगी परिवारों की वार्षिक आय, जाने कब होगी शुरुआत

योगेश्वर दत्त ने यह वीडियो पोस्ट करते हुए अपना गुस्सा जाहिर करते हुए लिखा है कि ‘श्री राम का चरित्र मर्यादा का पर्याय हैं. टोहाना के सेंट मैरी स्कूल में बच्चों के सामने श्री राम के चरित्र का ऐसा बेहूदा मजाक बनाना और गलत तरीके से दर्शाया एक घटिया सोच और मानसिकता का प्रतीक है. इस प्रकार के स्कूलों की तुरंत प्रभाव से मान्यता रद्द कर दी जानी चाहिए’.

योगेश्वर दत्त के इस पोस्ट का कई लोगों ने समर्थन करते हुए स्कूल पर गुस्सा जाहिर किया था. वही कमल सिंगला नाम के एक यूज़र ने कमेंट में एफआईआर की कॉपी पोस्ट की और बताया कि स्कूल के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई है. अभी तक एफआईआर की कोई अधिकारिक सूचना प्राप्त नहीं हुई है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के मुख्यमंत्री ने दिया MSP पर बयान, गारंटी कानून बनाना संभव नहीं

बजरंग दल के पदाधिकारी दीपक सैनी ने क्या कहा जानिए

आपको बता दें कि इस लैटर में बजरंग दल की तरफ से स्कूल के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की गई है. इसमें कहा गया है कि पुरानी सब्जी मंडी टोहाना सेंट मैरी स्कूल और डीएवी पब्लिक स्कूल में रामलीला के नाटक के दौरान भगवान श्रीराम का मजाक बनाया गया है. इस लेटर को बजरंग दल टोहाना के सदस्य दीपक सैनी और राकेश गोयल के नाम से एसएचओ टोहाना को भेजा गया है. इस लेटर में मांग की गई है कि इन स्कूलों के प्रिंसिपल, अध्यापक, अध्यापिका और नाटक की स्क्रिप्ट लिखने वालों पर मुकदमा दर्ज किया जाए और दोनों स्कूलों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाने की आवश्यकता है.

बजरंग दल के पदाधिकारी दीपक सैनी ने बताया कि प्रत्येक दिन हिंदू भावनाओं का अपमान करना इन स्कूलों की आदत बन चुकी है. इस मामले में हमारे ऊपर समझौते का दबाव बनाया जा रहा है. उन्होंने पुलिस की कार्यशैली पर असंतोष तथा जताया है. उनके अनुसार शिकायत देने के बाद भी पुलिस ने अब तक इस प्रकरण में कोई ठोस कार्रवाई नहीं की है. दीपक सैनी ने यह भी बताया कि पुलिस की डील के विरोध में बजरंग दल ने प्रदर्शन भी किया था जिसमें सेंट मैरी और डीएवी स्कूल के बहिष्कार के भी नारे लगाए थे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में पेट्रोल-डीजल की नई कीमत जारी, जानें अपने शहर में क्या है कीमत

सोशल मीडिया पर अधिकतर लोगों ने श्रीराम का अपमान करने पर आपत्ति जताते हुए. इन दोनों स्कूलों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है. ताकि आगे कोई स्कूल किसी की भी धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने का प्रयास  ना कर पाए.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!