कागज के दामों में 30 फीसदी हुई बढ़ोत्तरी, बढ़ सकते है फोटोस्टेट के रेट

नई दिल्ली, Paper Price Hike | लगातार हर चीजों के दाम बढ़ रहे हैं जिस वजह से लोगों को तमाम दिक्कतों और परेशानियों का सामना करना पड़ता है. वहीं, अब कागज के दाम आसमान छू रहे है. जिसका असर आम जनता पर पड़ रहा है. इससे कॉपियों से लेकर फोटोस्टेट तक महंगा हो गया है. कॉपियर पेपर और मैपालिफो पेपर के सबसे ज्यादा दाम बढ़े हैं. इसकी कीमतों में 30 फीसदी तक का उछाल आया है.

Paper Kagaj

कारोबारियों के मुताबिक, पॉलीथिन प्लास्टिक पर बैन का असर कागज पर पड़ा है. अब कप स्टॉक में कागज का ज्यादा इस्तेमाल हो रहा है. जिससे उत्पादन बढ़ा है. इस कागज से चश्मा बनाया जाता है. इसका उत्पादन काफी बढ़ गया है जिससे पेपर मिलों को फायदा हो रहा है. इसी की आड़ में अन्य कॉपियर्स और मैपालिफो पेपर्स के दाम बढ़ाए गए हैं. अपनी कीमतें बढ़ाने के लिए पेपर मिलों का तर्क है कि यूरोप से कोई कागज निर्यात नहीं होता है.

पिछले चार महीने से कागज के दाम लगातार बढ़ रहे हैं. आमतौर पर कॉपियर पेपर और मैपालिफो पेपर का इस्तेमाल किया जाता है. फोटो स्टेट के लिए कॉपियर पेपर का उपयोग किया जाता है. जबकि मेपालिफो का उपयोग कागज की प्रतियों और रजिस्टरों में किया जाता है. वे सबसे अधिक मांग वाले हैं. इनकी कीमतों की बात करें तो रिम जो पहले 170 रुपये में मिलता था. अब 260 रुपये तक मिल रहा है. इसी तरह कॉपी और रजिस्टर तैयार करने का पेपर पहले 45 से 48 रुपये में मिलता था. 100 रुपये प्लस जीएसटी के साथ मिल रहा है.

यह भी पढ़े -   ICICI बैंक के बाद इस बड़े बैंक ने किया FD की ब्याज दरों में बदलाव, देखें बढ़ी हुई ब्याज दरें

ये पड़ रहा प्रभाव

रिम की कीमत के चलते फोटोस्टेट की कीमत भी बढ़ गई है. पहले फोटोस्टेट के लिए 2 रुपये प्रति पेज चार्ज किया जाता था. अब इसका रेट घटाकर 3 रुपये प्रति पेज कर दिया गया है. इसी तरह कोर्ट व अन्य जगहों पर पत्र लिखने वालों ने भी रेट 30 रुपये से बढ़ाकर 40 रुपये कर दिया है. पहले कचहरी में इस्तेमाल होने वाले रिम की कीमत 220 रुपये थी. अब यह 320 रुपये मिल रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!