दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने उठाया बड़ा कदम, हरियाणा रोड़वेज की बढ़ी मुश्किलें

सोनीपत | राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के एक फैसले से हरियाणा सरकार की मुश्किलें बढ़ने वाली है. दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने हरियाणा रोड़वेज की पुरानी बसों के दिल्ली में प्रवेश करने पर रोक लगाने का फैसला लिया है. दिल्ली सरकार ने बढ़ते प्रदुषण स्तर को कम करने के लिए हरियाणा परिवहन विभाग को पत्र लिखकर कहा है कि रोड़वेज की पुरानी बसें (BS-4 मानक वाली) दिल्ली न भेजी जाए. केजरीवाल सरकार के इस कदम से दिल्ली आवागमन करने वाले यात्रियों व परिवहन विभाग की परेशानी बढ़ना निश्चित माना जा रहा है.

यह भी पढ़े -   रेलवे ने प्लेटफार्म टिकट का दाम किया दोगुना, इन स्टेशनों पर आदेश लागू; यहाँ देखें लिस्ट

Haryana Roadways

दिल्ली सरकार के इस कदम से सबसे ज्यादा परेशानी सोनीपत डिपो व गोहाना सब-डिपो को झेलनी पड़ सकती है क्योंकि यहां सभी बसें पुराने मानक की है. वहीं इस मामले को लेकर रोड़वेज महाप्रबंधक राहुल जैन से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मुख्यालय से 25 नई बसों (BS-6 मानक वाली) की मांग की गई है. जैसे ही ये बसें डिपो में पहुंच जाएगी तो पुरानी बसों की जगह इन्हें दिल्ली रूट पर चलाया जाएगा.

रोजाना 30 से अधिक बसें जाती है दिल्ली

सोनीपत डिपो व गोहाना सब-डिपो की बात करें तो दोनों जगहों से प्रतिदिन 30 से अधिक बसें दिल्ली के लिए आवागमन करती है. साथ ही आगरा, गुरुग्राम, जयपुर, मथुरा जाने वाली बसें भी दिल्ली होकर जाती हैं. केजरीवाल सरकार पुरानी बसों के दिल्ली में प्रवेश करने पर रोक लगाती है तो यहां से दिल्ली आवागमन करने वाले हजारों यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा.

यह भी पढ़े -   अब बार-बार ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों का लाइसेंस होगा रद्द, यहां पढ़ें नया नियम

दिल्ली में प्रदुषण गंभीर समस्या

बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रदुषण की समस्या गंभीर रूप धारण करती जा रही है और दिवाली तक आते- आते प्रदुषण का स्तर खतरनाक लेवल पर पहुंच जाता है. ऐसे में दिल्ली सरकार ने समय रहते प्रदुषण को नियंत्रित करने के उपायों पर काम करना शुरू कर दिया है. इसी कड़ी के तहत दिल्ली में हरियाणा सहित अन्य राज्यों की पुरानी बसों के प्रवेश पर रोक लगाने का कदम उठाया गया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!