हरियाणा सरकार ने खोलें सरकारी खजाने के द्वार, बिछेगा 5 हजार किलोमीटर लंबी नई सड़कों का जाल

चंडीगढ़|  हरियाणा की मनोहर सरकार ने पूरे प्रदेश में नई सड़कों का जाल बिछाने और पुरानी सड़कों की मरम्मत कर उन्हें चकाचक करने के लिए सरकारी खजाने के द्वार खोल दिए हैं. सीएम मनोहर लाल ने कहा कि सड़कों के निर्माण कार्य में बजट को लेकर किसी तरह की परेशानी नहीं होगी. उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में करीब 5 हजार किलोमीटर नई सड़कें बनाई जाएगी.

Smart Sadak Road

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि करीब 5 हजार किलोमीटर लंबी सड़कों का जाल बिछाने के लिए लगभग तीन हजार करोड़ रुपए का बजट जारी किया गया है. बजट की आधी राशि पुरानी सड़कों की मरम्मत पर खर्च की जाएगी. बता दें कि मंत्रियों, सांसदों और विधायकों से मिले सड़क निर्माण के प्रस्तावों के बाद सीएम मनोहर लाल ने सरकारी विभागों के साथ दो मैराथन बैठकें कर सड़कों के निर्माण का ब्लू प्रिंट तैयार किया. मुख्यमंत्री ने बताया कि सड़क निर्माण के कुछ कार्यों को अगले साल तक निपटा लिया जाएगा जबकि समस्त कार्यों को 31 मार्च 2024 तक पूरा करने का टारगेट रखा गया है.

सीएम मनोहर लाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मार्केटिंग बोर्ड की 850 किलोमीटर लंबी 313 सड़कें बनाई जाएंगी, जिन पर 425 करोड़ रुपये की धनराशि खर्च होगी. उन्होंने बताया कि पहले यह सड़कें मार्केट कमेटी की फीस से बनती थी लेकिन पिछले कुछ सालों में मार्केट फीस के आंकड़े में गिरावट आई है क्योंकि किसानों ने मंडियों में फसल बेचने की बजाय ऊंची कीमत पर अपनी फसल सीधा व्यापारियों को बेची है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में धान की खरीद 1 अक्टूबर से होगी शुरू, इन रेटों पर होगी खरीद

ऐसे में हमनें सड़कों के निर्माण के लिए एचआरडीएफ फंड से बिना ब्याज की राशि के 150 करोड़ रुपये मार्केटिंग बोर्ड को प्रदान करने का फैसला लिया है. हमारा प्रयास है कि प्रदेश की सभी मंडियों और गांवों को सड़क मार्ग के जरिए आपस में जोड़ा जाए.

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि खराब सड़कों की मरम्मत का काम साथ की साथ चलता रहेगा. उन्होंने कहा कि सड़कों की क्वालिटी में सुधार लाने के लिए अब हर सड़क को ब्लैक टॉप बनाया जाएगा. हालांकि इसमें खर्चा अधिक आएगा लेकिन सड़कों की बेहतर क्वालिटी के लिए हम ये खर्च उठाने को तैयार हैं. पूरे प्रदेश भर में सड़क कनेक्टिविटी मजबूत करने की दिशा में हमारी सरकार लगातार प्रयासरत हैं और इस दिशा में काम जारी रहेगा.

यह भी पढ़े -   मन की बात: अब भगत सिंह होगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम, पीएम ने इन मुख्य बिंदुओं पर की चर्चा

इन विभागों की सड़कों का होगा कायाकल्प

  • PWD & BR विभाग की 90 हलकों में 2750 किलोमीटर लंबी 1150 सड़कों का निर्माण कार्य शुरू होगा, जिसपर 1650 करोड़ रुपए की राशि खर्च होगी.
  • गुरुग्राम व फरीदाबाद नगर निगमों के दायरे में 197 किलोमीटर लंबी सड़कों का मरम्मत कार्य होगा, जिन पर 402 करोड़ रुपये खर्च होंगे.
  • HSIIDC के 24 एस्टेट क्षेत्र में 273 किलोमीटर लंबी सड़कों की मरम्मत होनी है. विभाग के अधिकारी हर छह महीने में उनका प्रमाणीकरण करेंगे. 168 किलोमीटर लंबी नई सड़कों के निर्माण कार्य पर 74 करोड़ रुपए खर्च आएगा.
  • शहरी निकाय विभाग के माध्यम से 506 किलोमीटर लंबी सड़कें बनाने का प्रस्ताव सरकार को मिला है, जिन पर 141 करोड़ रुपये की धनराशि खर्च होगी. अगले 15 दिन में टेंडर प्रक्रिया अमल में लाई जाएगी.
  • HSVP के सेक्टरों में 112 किलोमीटर लंबी सड़कों के निर्माण कार्य पर 36 करोड़ रुपए की राशि खर्च होगी.
यह भी पढ़े -   हरियाणा में इस दिन तक चलेगा बारिश का दौर, पढ़ें मौसम विभाग का ताजा पूर्वानुमान

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!