कोरोना की दूसरी लहर: 72 स्टूडेंट पाए गए कोरोना पॉजिटिव, देरी से मिल रही है सैंपल की रिपोर्ट

रोहतक । कोरोना की दूसरी लहर थमने का नाम नहीं ले रही. आए दिन मौत के आंकड़े और संक्रमितो की संख्या बढ़ती जा रही है. वैश्य श्मशान घाट में मंगलवार को दो कुंड बढा कर 6  किए गए. अब ये भी फुल हो गए हैं. मंगलवार को दो शिफ्ट में 12 शवों का दाह संस्कार किया गया. जिनमें से 6 मरीज जिले के ही है.

student corona school

कोरोना की दूसरी लहर थमने का नाम नहीं ले रही 

बता दे कि मरने वालों में गोकर्ण, कलानौर,पटेल नगर, देव नगर,सापला, कटेसरा, व हुड्डा सेक्टर के लोग शामिल है. लेकिन सरकारी बुलेटिन में अभी एक भी मौत दर्ज हुई, नहीं दर्शाई गई है. जिसकी वजह से सरकारी स्तर पर 7 दिनों में मौत का आंकड़ा 172 पर ही अटका है. वहीं दूसरी ओर प्रबंधों की खामियां भी साफ नजर आ रही है. बता दें कि जिले में मंगलवार को पीजीआईएमएस के कोविड-19 के नोडल ऑफिसर डॉ वींके कत्याल समेत जिले में 104 नए मामले सामने आए . जिनमें 72 स्टूडेंट भी शामिल है. इस कारण जिले में मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 1061 तक पहुंच गया.

यह भी पढ़े -   लापरवाही: रेफर हुए संक्रमित मरीज ने एंबुलेंस में दम तोड़ा, ऑक्सीजन सिलिंडर खत्म होने से गई जान

मंगलवार को 2745 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए,  जिनमें से 1766 मरीजों की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है. ऐसे में पॉजिटिव होने की दर  4.21 फीसदी तक पहुंच गई है. वही रिकवरी रेट घटकर 91.39% रह गई है. मंगलवार को 2302 लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी गई. वही 389 व्यक्तियों को दूसरी डोज लगाई गई. डॉक्टर कत्याल के कोरोना संक्रमित पाए जाने की के कारण उनकी जिम्मेदारी एचओडी डॉक्टर राजेश राजपूत को सौंपी गई है.

यह भी पढ़े -   बड़ी अपडेट: घर में आइसोलेट कोरोना संक्रमित को घर पर ही पहुंचाई जाएगी ऑक्सीजन

 

नर्सिंग कॉलेज के 51 स्टूडेंट्स पाए गए कोरोना पॉजिटिव

पीजीआई ट्रामा सेंटर में दाखिल होने वाले कोरोना संक्रमितो के तिमारदारों ने मंगलवार को जमकर हंगामा कर दिया. यह संक्रमित मरीजों के साथ वार्ड में उनकी देखभाल के लिए रहने देने की मांग कर रहे थे. उनका कहना था कि उनके मरीजों को अंदर ठीक ढंग से दवा देने के लिए कोई भी नहीं है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार ने दिया लिया बड़ा फैसला, अब हर एक गांव में होगी कोरोना की जांच

सैंपलिंग का वर्क लोड बढ़ते ही अब सैंपल रिपोर्ट भी 3 दिन तक आने लगी है. इसके साइड इफेक्ट भी सामने आ रहे हैं. बता दें कि बालंद नर्सिंग कॉलेज के 51 स्टूडेंट कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. यह सभी गुरुग्राम, बहादुरगढ़, रोहतक व अन्य जिलों से है. कोरोना संक्रमित होने के बाद पीजीआईएमएस में दाखिल हुए रोहतक के एक वकील ने व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए. एडवोकेट 1 अप्रैल को पीजीआई में दाखिल हुए थे. वह 12 अप्रैल को डिस्चार्ज हुए. उन्होंने सोशल मीडिया पर बताया कि यहां डॉक्टर, नर्सेज व पैरामेडिकल स्टाफ ओवरलोड से जूझ रहे हैं. सफाई कर्मचारियों की भी भारी संख्या में कमी है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!