अग्निपथ योजना के खिलाफ हरियाणा के इस जिलें में पक्के मोर्चे की शुरुआत, BJP- JJP नेताओं की गांव में एंट्री बैन

रोहतक | केन्द्र सरकार की नई सेना भर्ती को लेकर बनी अग्निपथ योजना के विरोध का सिलसिला थमता नजर नहीं आ रहा है. इस योजना के विरोध में लेकर हरियाणा में भी एक महापंचायत का आयोजन हुआ जिसमें गढ़ी सांपला स्थित छोटूराम धाम पर विभिन्न किसान संगठनों, खाप पंचायतों के प्रतिनिधियों व स्टूडेंट्स ऑर्गेनाइजेशन शामिल हुए. इस महापंचायत में बड़ी संख्या में युवाओं की भागीदारी रही.

panchayat

इस महापंचायत में किसान संगठनों और खाप पंचायतों द्वारा केंद्र सरकार से इस योजना को वापस लेने की मांग करते हुए छोटूराम धाम पर स्थाई धरने की शुरुआत करने का फैसला लिया गया है. पूरे हरियाणा में धरने प्रदर्शन का नेतृत्व यही से किया जाएगा और धरने प्रदर्शन को लेकर किस तरह की रणनीति होगी वो भी इसी धरना स्थल पर तय किया जाएगा. इस महापंचायत की अध्यक्षता करते हुए धनखड़ खाप के प्रधान ओमप्रकाश धनखड़ ने सभी के सुझाव सुनने पर यह निर्णय लिया कि सांपला को ही आन्दोलन का केन्द्र बनाया जाएगा और आज से ही इसकी शुरुआत की जाएगी.

पंचायत के फैसले की जानकारी देते हुए ओमप्रकाश धनखड़ ने बताया कि आंदोलन की रुपरेखा अब गढ़ी सांपला स्थित छोटूराम धाम पर शुरू किए गए स्थाई धरने से तय की जाएगी. वे युवाओं को भी सुझाव देते हैं कि अग्निवीर के जो फॉर्म निकले हैं, उसमें अप्लाई ना करें. यह योजना उन्हें स्वीकार नहीं है. उन्होंने कहा कि यह योजना युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाली है. इस योजना से सेना का मनोबल गिरेगा और केंद्र सरकार को इसे हर हाल में वापस लेना होगा.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: मिड- डे मील बनाने वाले रसोइयों के लिए बड़ी खुशखबरी, शिक्षा विभाग ने दोगुना किया वेतन

धनखड़ खाप के प्रधान ओमप्रकाश धनखड़ ने बताया कि महापंचायत में इस बात पर भी फैसला लिया गया है कि गांव में भाजपा- जजपा नेताओं के आने पर भी प्रतिबंध लगाया जाएगा . उन्होंने कहा कि स्थाई धरने की शुरुआत हो चुकी है और यह तब तक जारी रहेगा जब तक सरकार अग्निपथ योजना को वापस नहीं ले लेती. युवाओं का जोश और किसानों की समझदारी एक बार फिर केन्द्र की मोदी सरकार को इस योजना को वापस लेने पर मजबूर कर देगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!