सागर का मामा बोला- पहलवान सुशील बनना चाहता था डॉन, रहने लगा था गैंगस्टर लोगो के साथ

सोनीपत | सागर धनखड़ हत्याकांड में रेलवे विभाग द्वारा पहलवान सुशील कुमार को नौकरी से निलंबित किए जाने के फैसले पर सागर के परिजनों ने खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि रेलवे का यह कदम सराहनीय है. वहीं परिजनों ने सुशील कुमार से पदक वापस लेने की भी मांग की है. वहीं सागर के मामा ने कहा कि डॉन बनने की चाहत में ही सुशील ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है. डॉन बनने की चाहत में ही पहलवान सुशील आजकल गैंगस्टर के साथ उठने-बैठने लग गया था.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: ढाबे पर खाना बना रहे शख्स की निर्मम हत्या, जाँच में जुटी पुलिस

sushil kumar

वहीं सागर के परिजनों ने इस वारदात में काला जठेडी गैंग का हाथ होने से साफ इंकार किया और कहा कि अगर यह गैंग वहां होती तो सागर के साथ यह वारदात नहीं घटतीं. पहलवान सुशील कुमार के कई गैंगस्टरों से ताल्लुकात है, इसलिए वो उसे मिलें पदकों का हकदार नहीं हैं. लेकिन पदक अभी भी सुशील कुमार के पास ही है, जिन्हें वापस ले लेना चाहिए.

सागर के मामा ने बताया कि वारदात के वक्त बनाई गई वीडियो पुलिस के हाथ लग चुकी है और पुलिस उसी के आधार पर आगे की कार्रवाई कर रही है. सागर के मामा ने कहा कि पहले का तो पता नहीं लेकिन जिस दिन सागर के साथ यह वारदात हुई,उस वक्त काला जठेडी गैंग वहां मौजूद नहीं थीं.

यह भी पढ़े -   कैथल पुलिस ने सुलझाई बड़ी वारदात, जुए में हारा तों रच डाली लाखों रुपए की लूट की वारदात

वहीं पूरे मामले को लेकर सोनीपत पुलिस ने गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेडी के बारे में जानकारी दी कि काला जठेडी पर 13 मर्डर केस, 4 हत्या के प्रयास व करीब 20 लूट व डकैती के मामले दर्ज हैं. फरीदाबाद पुलिस की ओर से 5 लाख व गुरुग्राम एसटीएफ की और से 2 लाख रुपए का इनाम काला जठेडी पर घोषित किया हुआ है. काला जठेडी पर 2 फरवरी 2020 को फरारी का मामला दर्ज हुआ था.

यह भी पढ़े -   3 सगे भाईयों ने किया महिला से दुष्कर्म, आरोपी फरार

डीएसपी रोहित ने बताया कि फिलहाल सूचना के अनुसार वह देश से बाहर बैठकर अपनी गैंग को ऑपरेट कर रहा है और जल्द ही उसे गिरफ्तार किया जाएगा. वहीं सागर के परिजनों को सुरक्षा देने के मामले पर उन्होंने कहा कि अगर परिवार की तरफ से ऐसी मांग की जाती है तो वह पूरी की जाएगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!