CBSE बढ़ते कोरोना को देखते हुए, होम सेंटर्स को लेकर जल्द करेगा बड़ा ऐलान

चंडीगढ़। CBSE 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर छात्रों के हित में अगले एक-दो दिन में बड़ा ऐलान कर सकता है. देशभर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए बोर्ड 10वीं और 12वीं टर्म 2 की परीक्षा गृह केंद्रों पर कराने का बड़ा और लाभकारी ऐलान कर सकता है. दिल्ली, एनसीआर, गुड़गांव, नोएडा, यूपी में बड़ी संख्या में छात्रों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद बोर्ड अपने शीर्ष अधिकारियों और केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के साथ स्थिति पर करीब से नजर रख रहा है.

CBSE

सोशल मीडिया पर लोग कर रहे है ये मांग

राष्ट्रीय राजधानी में, विशेष रूप से स्कूलों में, COVID-19 मामलों की संख्या में वृद्धि के साथ कई माता-पिता और शिक्षक अपने बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा के बारे में अधिक चिंतित हो गए हैं. ऐसे समय में जब बोर्ड परीक्षाएं छात्रों के सिर पर हैं COVID-19 के बढ़ते मामले कई लोगों के लिए अधिक चिंताजनक हो गए हैं. दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोविड संक्रमण के करीब 400 नए मामले सामने आने के बाद छात्रों और उनके अभिभावकों ने ट्विटर समेत विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इस साल बोर्ड परीक्षाएं होम सेंटर्स पर कराने की मांग की है.

होम सेंटर्स की चल रही है मांग

एक छात्र ने ट्विटर पर कहा कि देशभर में कोरोना की चौथी लहर आने के मजबूत संकेतों के बीच वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं. ऐसे में कई अभिभावकों ने स्कूल केंद्रों में कोविड-19 दिशा-निर्देशों की कमी और साफ-सफाई को लेकर गंभीर चिंता व्यक्त की है. अभिभावकों का दावा है कि उन्हें इस बात की चिंता सता रही है कि उनके बच्चों को परीक्षा केंद्र के लिए दूर-दूर जाना पड़ेगा, जिससे उनकी सेहत को खतरा होगा. इस संबंध में, कई माता-पिता और छात्रों ने बोर्ड के अधिकारियों से घरेलू केंद्रों पर टर्म 2 परीक्षा आयोजित करने की मांग की है.

यह भी पढ़े -   CBSE: अब बोर्ड परीक्षा के लिए विद्यार्थियों को नहीं लगाना पड़ेगा रट्टा, इस पैटर्न से आयोजित होंगी बोर्ड की परीक्षाएं

पिछली बार नकल के आए थे कई मामले

बता दें कि पिछली बार सीबीएसई टर्म 1 की परीक्षा होम सेंटर पर ली गई थी. परीक्षा के दौरान नकल के कई मामले सामने आए थे. इसके बाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने फैसला किया कि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं अलग-अलग स्कूलों में कराई जाएंगी. सीबीएसई स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन (सीएसएमए) ने आरोप लगाया था कि कई स्कूलों ने परीक्षा के दौरान छात्रों को नकल करने में मदद की थी.

यह भी पढ़े -   स्कूली छात्रों को एक और बड़ा तोहफा देगी हरियाणा सरकार, 27 मई को होगा कार्यक्रम

कोरोना बढ़ा तो सुरक्षा बढ़ेगी

इधर, देश की राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे में करीब चार प्रतिशत की दर के साथ कोविड के 366 नए मामले दर्ज किए गए हैं. यह 3 फरवरी के बाद सबसे ज्यादा है. ऐसे में कोरोना की चौथी लहर के आने को लेकर क्यास लगाए जा रहे हैं. इसलिए छात्र व उनके अभिभावक सुरक्षा एहतियात का हवाला देकर होम सेंटर की बात कर रहे हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!