1857 की क्रांति पर आधारित नाटक देख पाएंगे हरियाणा के सभी निवासी, सीएम ने की अहम घोषणा

चंडीगढ़ | हरियाणा के सभी 22 जिलों में आयोजित करवाए जाएंगे 1857 की क्रांति पर निर्मित नाटक. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बताया कि इस वर्ष आजादी के 75 साल हो गए हैं. इस वर्ष को आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में भी मनाया जा रहा है. उन्होंने बताया कि अगस्त 2022 से पहले हरियाणा के सभी जिलों में 1857 की क्रांति पर आधारित नाटकों का मंचन करवाने की बात कही है.

CM

जाने क्या है पूरी खबर

मनोहर लाल खट्टर कल चंडीगढ़ में आयोजित “1857 का संग्राम हरियाणा के वीरों के नाम” नाटक मंचन कार्यक्रम में शामिल हुए. यह कार्यक्रम मुख्यमंत्री समेत सभी दर्शकों को काफी अच्छा लगा. इसमें हरियाणा के वीरों का योगदान तथा इतिहास की कहानी का शानदार मंचन किया गया था. इस कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री ने यह घोषणा करी की प्रदेश के सभी जिलों में इस प्रकार के नाटकों का मंचन जरूर करवाया जाएगा.

यह भी पढ़े -   आंदोलनरत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को हरियाणा सरकार की बड़ी सौगातें, इन मांगों पर बनीं सहमति

सीएम ने कही यह प्रमुख बात

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा की नाटक मंचन के माध्यम से अपने वीरों के बलिदान के बारे में जानना तथा हरियाणा का इतिहास काफी बेहतर ढंग से दर्शाया गया. इस प्रकार के कार्यक्रम आजादी के अमृत महोत्सव के इस साल के अंदर भी हरियाणा के सभी जिलों में 1857 की क्रांति पर निर्मित इस नाटक को दिखाया जाएगा. मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि इस प्रकार के कार्यक्रमों को बढ़ावा दिया जाएगा. हरियाणा सरकार की तरफ से जिस प्रकार के योगदान की आवश्यकता होगी उसको दिया जाएगा.

मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि सेना में हर 10 वा सैनिक हरियाणा का होता है. जिसके कारण स्वरूप वीरों को समर्पित मंचीय नाटकों का प्रदेश के सभी जिलों में आयोजन करवाया जाएगा. इसके पीछे मुख्य उद्देश्य है कि हरियाणा के प्रत्येक नागरिक अपने प्रदेश के वीरो की वीर गाथा के संदर्भ में नाटक के मंचन के द्वारा सरलता से जान सकते हैं. जिसके कारण प्रदेश सरकार चाहती है कि ऐसे नाटकों को प्रदेश के सभी जिलों में दिखाया जाना जरूरी है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!