ऐलनाबाद में बिछेगा सड़कों का जाल, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने दी इन 22 सड़कों को मंजूरी

चंडीगढ़ । ऐलनाबाद उपचुनाव प्रचार के दौरान गठबंधन सरकार द्वारा किए गए वादों को निभाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और इस कड़ी में क्षेत्रवासियों की प्रमुख मांग कुछ नई सड़कों का निर्माण या फिर पुनर्निर्माण की रहीं थीं. अब इन मांगों को प्रदेश के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने सिरे चढ़ाने का काम शुरू करते हुए 22 प्रोजेक्ट्स को मंजूरी प्रदान की है.

dushant chautala

इनमें से कुछ प्रोजेक्ट्स पर तो दस करोड़ रुपए से अधिक लागत राशि खर्च होगी. ऐलनाबाद उपचुनाव में क्षेत्र के विकास का वादा कर जनता से वोटों की अपील करने वाले दुष्यंत चौटाला ने अपने विभाग से संबंधित विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है. इस दिशा में पहले चरण में 22 सड़कों के निर्माण को मंजूरी दी गई है. ऐलनाबाद से जेजेपी के तेजतर्रार नेता एवं प्रमुख समाजसेवी मीनू बैनीवाल के प्रयासों की बदौलत चुनाव के तुरंत बाद क्षेत्र में विकास कार्यों ने रफ्तार पकड़नी शुरू कर दी है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के किसान ने किया ऐसा अविष्कार, बिना ईंधन बना सकेंगे बिजली

 

इन सड़कों के निर्माण को मंजूरी

1. जोगीवाला से राजस्थान बार्डर तक – ढाई किमी

2. ऐलनाबाद से भुर्टवाला वाया मूसली – चार किमी

3. ऐलनाबाद शहर में हिसार रोड से एडिशनल मंडी तक – आधा किमी

4. शेखपुरा से मूसली तक – तीन किमी

5. कोटली से ढाणी संता सिंह – ढाई किमी

यह भी पढ़े -   नए वैरिएंट पर स्वास्थ्य विभाग ने जारी की गाइडलाइन, विदेश से आने वालों को किया जाएगा क्वारंटाइन

6. साहुवाला द्वितीय से दड़बा – छह किमी

7. ऐलनाबाद के हनुमानगढ़ टिब्बी रोड से दया सिंह थेहड़ तक – डेढ़ किमी

8. मल्लेकां से माधोसिंघाना – दो किमी

9. बरासरी अप्रोच रोड – छह सौ मीटर

10. रूपाणा खुर्द से रूपावास – साढ़े पांच किमी

11. रायपुरिया से बरासरी तक

12. गुसाइआना से नथराना बार्डर तक

13. गुसाइआना से जोड़किया

14. गुसाइआना से जमाल

15. जमाल से पमदपुरा

16. तरक्कांवाली से शक्करमंदोरी

17. कर्मशाना से बुरहानपुरा

18. कर्मशाना से थालड़का

19. कर्मशाना से श्योकंदपुरा

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार ने मुख्य सचिव के पद पर संजीव कौशल को किया नियुक्त, पीके दास को बनाया एससीआर

20. जमाल से नथराना बार्डर

21. ऐलनाबाद से मिठनपुरा वाया कर्मशाना राजस्थान बार्डर तक

22. रायपुरियां से रुपावास- डेढ़ किमी

ऐलनाबाद उपचुनाव में मिली थी शिकस्त

कृषि कानूनों के विरोध में किसान आंदोलन के समर्थन में इस्तीफा देने के बाद अभय चौटाला दोबारा से चुनावी रण में उतरे थे. हालांकि गठबंधन प्रत्याशी गोबिंद कांडा ने अभय चौटाला को कड़ी टक्कर दी थी लेकिन उन्हें नजदीकी मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा था. डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने उस दौरान हल्के के विकास का वादा किया था और इस दिशा में कदम बढ़ाने भी शुरू कर दिए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!