किसान नेता की कोरोना संक्रमित मरीज़ों को सलाह, Oxygen ना मिले तो MP और MLA के घरों में डालें डेरा

चंडीगढ़ । केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीन नए कृषि कानूनों के विरुद्ध चल रहा किसान आंदोलन लगातार जारी है. इस दौरान किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कोरोना संक्रमित मरीजों को ट्वीट कर सलाह दी हैं. गुरनाम सिंह चढूनी ने कोरोना संक्रमितों को सलाह देते हुए कहा है कि जिन्हें अस्पतालों में ऑक्सीजन या बेड नहीं मिलते वह अपने एमएलए और एमपी के घरों में जाकर डेरा डाले.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में टेस्ट कराने वाला हर चौथा व्यक्ति कोरोना संक्रमित, 100 से ज्यादा रोज हो रही मौत

Gurnam Singh Chadhuni

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले भारतीय किसान यूनियन के बड़े नेताओं गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा था कि सरकार को विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों को कोरोना जांच कराने या वैक्सीन लगवाने के लिए बाध्य नहीं किया जाना चाहिए. यदि किसानों के साथ स्वास्थ्य कर्मियों ने जोर जबरदस्ती करने का प्रयास किया तो उन्हें धरना स्थल पर घुसने नहीं दिया जाएगा.

यह भी पढ़े -   ग्रामीण हरियाणा में पुरुषों से की गई नई अपील, बंद करे हुक्का व ताश

हरियाणा के स्वास्थ्य एवं गृह मंत्री अनिल विज ने कुछ दिनों पहले ही कहा था कि किसान जो हरियाणा दिल्ली बॉर्डर पर धरना दे रहे हैं, की कोरोना जांच करवाई जाएगी और उनका वैक्सीनेशन भी किया जाएगा. दिल्ली के साथ-साथ हरियाणा के फरीदाबाद, गुरुग्राम और सोनीपत जिलों की सीमाएं लगती हैं. गुरनाम सिंह ने कहा कि यदि हम पर किसी भी प्रकार का दबाव बनाने का प्रयास किया तो हम उन्हें धरना स्थल में प्रवेश नहीं करने देंगे.

यह भी पढ़े -   24 घंटे बिजली देने के लिए बिजली विभाग ने तैयार की ये खास योजना, जाने

उन्होंने कहा कि टीका लगवाने और जांच करवाने का विकल्प किसानों पर ही छोड़ देना उचित होगा. केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए नए कृषि कानूनों के विरुद्ध बड़ी संख्या में किसान हरियाणा के टिकरी बॉर्डर और सिंघु बॉर्डर पर कई महीनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

 

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!