हरियाणा सरकार के शानदार पहल, गुरुग्राम व कुरुक्षेत्र में शुरू होंगे टीचर ट्रेनिंग संस्थान

चंडीगढ़ | हरियाणा राज्य में शिक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं. राज्य सरकार द्वारा विद्यालयों और उच्च शिक्षा संस्थानों के लिए विभिन्न स्तर पर पहल की जा रही है. राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लागू करने की दिशा में सरकार की ओर से कदम बढ़ाया है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में डीएपी खाद की किल्लत,अगेती सरसों व आलू बिजाई वाले किसानों को आ रही है दिक्कत

haryana cm press conference

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने ‘गुरुग्राम व कुरुक्षेत्र में स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांस स्टडी इन टीचर ट्रेनिंग सेंटर’ (एसआईएएसटीई) आरंभ करने की स्वीकृति दी है. ये संस्थान क्रमश गुरुग्राम यूनिवर्सिटी और कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से संबद्ध किए जाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा, संस्थानों के प्रारंभ होने से 21वीं सदी के कौशलों से युक्त शिक्षकों का निर्माण होगा जो न केवल प्रदेश की स्कूली शिक्षा को सुदृढ़ करने का काम करेंगे बल्कि भारत को शिक्षकों का निर्यातक देश बनाने के प्रधानमंत्री मोदी के सपने को साकार करेंगे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में तैयार हो रही ‘पदमा’ पॉलिसी, गांव में बने प्रोडक्ट्स विदेशों तक बिकेंगे

मुख्यमंत्री ने बताया कि हरियाणा देश का पहला प्रदेश है जिसने राष्ट्रीय शिक्षा नीति की इस अति महत्वाकांक्षी अनुशंसा को लागू करने की पहल की है. इन दोनों संस्थानों में चार वर्षीय बीएड कोर्स में इसी सत्र से छात्रों को दाखिल किया जाएगा. इन संस्थानों में शिक्षक शिक्षा अंतरराष्ट्रीय स्तर का पाठ्यक्रम लागू किया जाएगा जो स्कूली शिक्षा के स्तर को ऊपर ले जाने में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर साबित होगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!