हरियाणा सरकार जल्द करेगी 22 खूंखार कैदियों को रिहा

चंडीगढ़ | हरियाणा की जेल मंत्री रणजीत सिंह ने बताया है कि अच्छे आचरण वाले कैदियों की रिहाई का मामला सरकार के पास भेजा जाएगा. इन कैदियों को समय से पहले छोड़ने पर सरकार का अंतिम फैसला होगा. जेल मंत्री रणजीत सिंह ने इस मामले पर एक बैठक की थी. जिसमें 22 कैदियों को अच्छे आचरण की वजह से समय से पहले रिहा करने के लिए विचार किया गया है. जेल में रहते हुए इन सभी कैदियों के व्यवहार में मंथन भी हुआ है. इस मामले को आखरी मंजूरी के लिए सरकार के पास भेजा गया है. इनमें ऐसे मामले भी हैं जिनकी सजा पूरी हो चुकी है. साथ ही जेल मंत्री ने आगे कहा है कि प्रदेश में कोविड कारण कैदियों को बाहर भी रहना पड़ा था.

यह भी पढ़े -   Happy Fathers Day Images 2021: हैप्पी फादर्स डे 2021 पर ये मेसेज भेजे अपने पापा को, हो जायेंगे खुश

narnaul jail

उन्होंने कहा है कि गुरमीत सिंह बीमारी की वजह से कितने दिन मेदांता में रहेंगे. यह उनकी स्वास्थ्य रिपोर्ट तथा डॉक्टर्स की रिपोर्ट से तय होगा. बिजली मंत्री के तौर पर चौधरी रणजीत सिंह ने बताया है कि किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए हमारी सरकार एक मानक तय करने वाली है. जिसके तहत भूमि में पानी एक निश्चित स्तर तक होने पर ही कनेक्शन दिया जाएगा. साथ में उन्होंने यह भी कहा है कि 6 महीनों के अंदर किसानों को सभी कनेक्शन दे दिए जाएंगे. नए ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए कमांड तथा नॉन कमांड का विषय नहीं होगा तथा पैडी, नॉन पैडी का भी कोई विषय नहीं होगा. बिजली मंत्री ने आकर बताया है कि हमने गुरुग्राम और पंचकूला दो शहरों को मॉडल के तौर पर बिना कटे बिजली तथा इनवर्टर मुक्त शहर बनाने का लक्ष्य रखा है. हमारा प्रयास रहेगा कि खराब ट्रांसफार्मर, बिजली की तारे, आदि की समस्याओं को ठीक रखा जाए.

उन्होंने यह भी बताया है कि जून-जुलाई के महीनों में तेज आंधी तथा बरसात के कारण ज्यादा खंबे टूटे हैं. इसीलिए सभी खंभों की मार्किंग की जा रही है ताकि लोगों को किसी प्रकार की परेशानी ना रहे. किन दो शहरों में यह प्रयोग सफल होने पर इसे पूरे हरियाणा में लागू किया जाएगा. रणजीत सिंह ने कहां है कि हमारा लक्ष्य हरियाणा को 24 घंटे बिजली देने का है. इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए हम करीबन 5300 गांव को 24 घंटे बिजली उपलब्ध करा रहे है.

यह भी पढ़े -   ओपी धनखड़ ने बनाई हरियाणा भाजपा की जंबो कार्यकारिणी, सीएम व मंत्री सहित सभी सांसद शामिल

हरियाणा औद्योगिक क्षेत्र में बिजली उपलब्ध करवाने में अग्रणी राज्यों में से एक है. हमारी यही कोशिश रहेगी कि हरियाणा के सभी किसानों को ट्यूबवेल कलेक्शन जल्द ही दे दिया जाए. उन्होंने कहा है कि किसानों द्वारा करीबन 50 हजार ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए आवेदन आए थे. जिनमें से हमने 35 हजार ट्यूबवेल कनेक्शन दे भी दिए हैं, बाकी कनेक्शन जल्द ही दे दिए जाएंगे. किसानों की एक और बड़ी परेशानी का सावधान करते हुए हरियाणा सरकार ने ट्यूबवेल की मोटर बनाने वाली सात कंपनियों को स्वीकृति प्रदान कर दी है. जिससे किसान अपनी मोटर खुद खरीद कर लगा सकते हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!