पीजीआई चंडीगढ़ के सीरो सर्वे की रिपोर्ट, कोरोना की तीसरी लहर का नहीं होगा बच्चों पर असर

Casino

चंडीगढ़ | कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का प्रभाव कम हो चुका है. तीसरी लहर की चर्चाओं से माहौल गर्म है. हेल्थ एक्सपर्ट कभी इसके अगस्त तो कभी सितंबर में तीसरी लहर आने की चेतावनी जारी कर रहे हैं. चंडीगढ़ प्रशासन भी इसी हिदायत को ध्यान में रखकर तैयारी करने में जुटा है.

narnaul corona news

इसी बीच एक राहत की खबर पीजीआई चंडीगढ़ से आई है. राहत इस बात की है कि तीसरी लहर आई भी तो बच्चे सुरक्षित रहेंगे. इनमें भी गांवों के बच्चे ज्यादा महफूज है. यह जानकारी पीजीआई द्वारा किए जा रहे सीरो सर्वे रिपोर्ट में सामने आई है. पीजीआई के डायरेक्टर प्रो. डॉ. जगतराम ने बताया है कि बच्चों का सीरो सर्वे वह शहर में अलग-अलग जगह शुरू कर चुके हैं. इसके बेहतर परिणाम आ रहे हैं. सेक्टरों में पॉजिटिविटी रेट 64 फीसद और गांवों में 73 फीसद मिल रहा है. उचित सीरो पॉजिटिविटी रेट का मतलब है कि ज्यादातर बच्चों में कोरोना वायरस के प्रति एंटीबॉडी मौजूद है. ऐसे में बच्चों को कोरोना की तीसरी लहर का खतरा नहीं है ऐसा माना जा सकता है. मंगलवार से कालोनियों में भी सीरो सर्वे शुरू किया गया है.

कोरोना से हालात सुधरने पर अब सर्जरी भी कर चुके हैं. रोजाना करीब 1600 सर्जरी इन दिनों कर रहे हैं। 1600 मरीज उनके पास इनडोर में दाखिल है. डॉक्टर जगतराम ने यह है जानकारी पंजाब राजभवन में कोविड वाॅर रूम मीटिंग के दौरान प्रशासन वीपी सिंह बदनौर को दी. उन्होंने बताया है कि ब्लैक फंगस के केस भी अब रोजाना तीन या चार ही आ रहे हैं. इससे मौत भी कम होकर 11 फीसद तक पहुंच गई है.

यह भी पढ़े -   रोडवेज बसों का नहीं बढ़ेगा किराया, परिवहन मंत्री ने दी जानकारी

डॉ. जगतराम ने बताया है कि 2000 लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन प्लांट बुधवार से शुरू हो जाएगा. इससे ऑक्सीजन की समस्या काफी हद तक नहीं रहेगी. यह प्लांट पर्यावरण से ही गैस लेकर ऑक्सीजन में बदलेगा. जीएमसीएच-32 की डायरेक्टर प्रिंसिपल डॉ. जसबिंदर कौर ने बताया है कि ऑनलाइन अपॉइंटमेंट के बाद फिजिकल ओपीडी शुरू कर चुके हैं. डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज डॉ. अमनदीप कंग ने बताया है कि पिछले सप्ताह पॉजिटिविटी रेट कम होकर 0.6 फीसद हो चुका है. रिकवरी रेट 98.5 फीसद हो गया है. 5,66,601 कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है. अभी 26,199 डोज बची है.

यह भी पढ़े -   ऐलनाबाद उपचुनाव को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर, की गई यह मांग

सीटीयू बस ऐसे होगी वैक्सीनेशन

डॉ. अमनदीप कंग ने बताया है कि सीटीयू बसों की सहायता से मोबाइल वैक्सीनेशन की शुरुआत होगी. अगले सप्ताह से बसों में वैक्सीनेशन के लिए टीम अलग-अलग एरिया में पहुंचेगी. सुखना लेक पर भी कोविड वैक्सीनेशन के स्पेशल कैंप की शुरुआत हो चुकी है. मंगलवार को पहले दिन लेक पर घूमने आए लोगों को वैक्सीन लगाई गई. इस दौरान कुछ लोगों ने पहली तो कुछ ने दूसरी डोज लगवाई.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!