हरियाणा में दूसरी लहर में खतरनाक हुआ कोरोना, दस दिन में तीन गुणा बढ़ गया संक्रमण

चंडीगढ़ । कोरोना की दूसरी लहर हरियाणा में सबसे अधिक खतरनाक सिद्ध हो रही है. पिछले 10 दिनों में कोरोना संक्रमण के कारण 94 मरीजों की मृत्यु हो गई है. इन्हीं 10 दिनों में कोरोना के 20810 नए मामले पाए गए हैं. नवंबर के महीने में जब कोरोना संक्रमण अपनी चरम पर था, उस समय भी 10 दिनों की अवधि में इतने सारे कोरोना संक्रमित नहीं पाए गए थे. खतरनाक बात यह है कि पिछले 5 दिनों से 2,000 से अधिक कोरोना संक्रमित प्रतिदिन पाए जा रहे हैं.

यह भी पढ़े -   बड़ी अपडेट: घर में आइसोलेट कोरोना संक्रमित को घर पर ही पहुंचाई जाएगी ऑक्सीजन

corona image

जिन लोगों ने पहले चरण में कोरोना संक्रमण को मात दी थी वह लोग भी कोरोना की दूसरी लहर में लपेटे में आ रहे हैं. इससे स्वास्थ्य विभाग की परेशानी बढ़ गई है. हरियाणा सरकार ने लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को रोकने और चैन को तोड़ने हेतु सख्ती बढ़ाई है और स्वास्थ्य सेवाओं को और ज्यादा मजबूत बनाने की तैयारियां शुरू कर दी है. वैक्सीनेशन के साथ-साथ हॉस्पिटल्स में बेड की संख्या को बढ़ाया जा रहा है.
इसके अतिरिक्त ट्रैकिंग सिस्टम और सेंपलिंग सिस्टम को भी मजबूत किया जा रहा है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में घोषित हुआ 7 दिनों का लॉकडाउन, अनिल विज ने दिया बयान

हरियाणा राज्य में सैंपलिंग 4 गुना बढ़ गई है. हॉस्पिटल्स में बेड की पूर्ण व्यवस्थाएं की जा रही है, जिससे एमरजैंसी की स्थिति में किसी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े. हॉस्पिटल में चिकित्सीय संसाधनों को अधिक मजबूत बनाया जा रहा है. इसमें मुख्य रूप से ऑक्सीजन सिलेंडर और बेड पर ही फोकस बनाया हुआ है, जिससे संसाधनों की कमी के कारण उपचार में कोई प्रभाव ना पड़े.

हॉस्पिटल में बेड की संख्या 13680 से ज्यादा हो चुकी है. प्रदेश में कोरोना को हराने के लिए वैक्सीनेशन पर भी बल दिया जा रहा है. रविवार से बुधवार तक हरियाणा सरकार ने लगभग 7,00,000 लोगों को कोरोना वैक्सीन का टीका लगाने का लक्ष्य बनाया है. इसी के मद्देनजर सभी डॉक्टरों से लेकर पैरामेडिकल स्टाफ की सभी छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं. हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने हॉस्पिटल में स्वास्थ्य सुविधाओं की व्यवस्था बनाने के साथ-साथ कॉविड गाइडलाइंस व नियमों का सख्ती से पालन करने के आदेश दिए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!