समोसे पर डिस्काउंट नहीं मिला तो हलवाई से मांगी 50 लाख रंगदारी, जाने मामला

गुरुग्राम । गुरुग्राम से रंगदारी का एक अजीब सा मामला सामने आए हैं. एक बदमाश को समोसे खाना बहुत अधिक पसंद था. यह बदमाश हर बार एक ही दुकान से समोसे खाता था. हुआ यूं कि एक दिन बदमाश ने दुकानदार से समोसे पर डिस्काउंट मांग लिया. लेकिन दुकानदार ने समोसे पर डिस्काउंट देने से मना किया तो बदमाश इस बात पर चिढ़ गया. उसने दुकानदार को सबक सिखाने की सोची. इसी के चलते एक दिन बदमाश ने दुकानदार से ₹50,00,000 की रंगदारी मांगी. यह मामला राजेंद्र पार्क थाना एरिया के चंदू गांव का है.

gurugram news today 2

यह मामला तब सबके सामने आया जब सेक्टर 17 क्राइम ब्रांच ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में आरोपी बदमाश ने स्वीकार किया कि वह पीड़ित दुकानदार की दुकान पर समोसे खाने के लिए जाता था. एक दिन उसने दुकानदार से समोसे पर डिस्काउंट मांग लिया और दुकानदार ने डिस्काउंट देने से मना किया. इससे उसे बहुत अधिक गुस्सा आ गया और कहा कि इतने पैसे कमा रहा है और क्या डिस्काउंट नहीं दे सकता. इसीलिए आरोपित ने योजना बनाई और दुकानदार को फोन कर रंगदारी की मांग की.

यह भी पढ़े -   हिसार में दिनदहाड़े चली गोलियां, मां-बेटे समेत तीन को गोलियों से भुना

पहले फोन फिर व्हाट्सएप पर दी धमकी

पुलिस ने बताया कि द्वारका सेक्टर 17 के रहने वाले अनिल छिल्लर ने इस मामले की शिकायत दर्ज करवाई है. शिकायत में कहा गया है कि चंदू गांव के पास बर्फीवाला के नाम से वह मिठाई की दुकान चलाता है. 4 अप्रैल 2021 को शाम को लगभग 6:30 बजे वह अपनी दुकान पर था. उसी वक्त उसके फोन पर एक कॉल आता है. कॉल करने वाला धमकी देकर उससे 50 लाख की मांग करता है और रुपए ना देने पर जान से हाथ धोने की बात करता है. आरोपित ने फोन पर कहा कि तुम मेरा नाम नहीं जानते हो, मैं आकू का भाई साडराणा से सागर बोल रहा हूं. आरोपित ने कहा कि अगर इस बारे में किसी को भी कुछ भी बताया तो अंजाम बहुत बुरा होगा. पीड़ित दुकानदार ने बताया कि इसके बाद दो अलग-अलग मोबाइल नंबर से व्हाट्सएप पर भी धमकी वाले मैसेज आए. यह इंटरनेशनल नंबर बताया जा रहे हैं. राजेंद्रा पार्क थाना में शनिवार को एफ आई आर दर्ज की गई है.

यह भी पढ़े -   एक तो कोरोना का कहर दूसरा एंबुलेंस संचालक हड़ताल पर, मरीजों में मची अफरा-तफरी

पुलिस ने किया गिरफ्तार

इस केस की तहकीकात करते हुए सेक्टर 17 क्राइम ब्रांच इंचार्ज इंस्पेक्टर नरेंद्र चौहान की टीम ने आरोपी बदमाश को चंदू गांव के बस स्टैंड से पकड़ लिया है. जब उससे पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह सामान लेने दुकान पर गया तो दुकानदार ने उसे डिस्काउंट नहीं दिया. इससे उसने गुस्से में आकर इस वारदात की योजना बनाई. एक वर्चुअल नंबर से व्हाट्सएप अकाउंट बनाया और फोन कर दुकानदार को धमकी दी.

यह भी पढ़े -   हरियाणा पुलिस का आमनवीय चेहरा, दो युवको को बुरी तरह पीटा, देखे वायरल वीडियो

पीड़ित दुकानदार ने बताया कि आरोपी बदमाश ने उसे डराने के लिए अलग-अलग मोबाइल नंबर से धमकी वाले मैसेज भेजें. आरोपी बदमाश ने इसके लिए इंटरनेशनल नंबर का सहारा लिया. व्हाट्सएप पर मैसेज करने से पहले उसने फोन कर धमकी देते हुए रुपयों की मांग की थी.

 

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!