मौसमी, नींबू,किन्नू और माल्टा की बागवानी खेती पर मिल रही है बंपर छूट, ऐसे उठाएं योजना का लाभ

हिसार । हरियाणा सरकार किसानों को बागवानी खेती के लिए प्रोत्साहित करने हेतु अनेक योजनाओं को क्रियान्वित कर रही है. सरकार चाहती है कि किसान परम्परागत खेती का मोह त्याग कर बागवानी खेती करने पर जोर दे. बागवानी विभाग भी अनेक प्रकार के फलों की खेती करने पर छूट प्रदान कर रहा है. बागवानी विभाग से जुड़ी अनेक योजनाओं का लाभ उठाकर आप अपना खुद का रोजगार भी स्थापित कर सकते हैं.

NEWS 17

प्रदेश सरकार द्वारा जिले में बाग लगाने वाले किसानों को अनुदान एवं प्रोत्साहन राशि मुहैया करवाई जा रही है. किसान खेतों में परम्परागत खेती के साथ-साथ बागवानी करके अपनी आमदनी में भी इजाफा कर सकते हैं.
जिला बागवानी अधिकारी डॉ सुरेन्द्र सिहाग ने बताया कि विभाग द्वारा मौसमी, नींबू, किन्नू और माल्टा के पौधे लगाने पर 4800 रुपए प्रति एकड़ की अनुदान राशि दी जा रही है. इसके अलावा अच्छी तरह से पौधों का पालन-पोषण करने पर दो साल तक 1600-1600 रुपए की प्रोत्साहन राशि भी मुहैया करवाई जा रही है. उन्होंने बताया कि अमरुद का बाग लगाने वाले किसानों को 4600 रुपए प्रति एकड़ अनुदान तथा दो साल तक 1533-1533 रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जा रही है.

यह भी पढ़े -   रेलवे का बड़ा फैसला, ट्रेनों मे स्लीपरो की जगह लगेगे थर्ड एसी इकोनामी कोच

अनार का बाग लगाने पर अनुदान

इसी तरह अनार का बाग लगाने वाले किसानों को 6300 रुपए प्रति एकड़ अनुदान तथा दो साल तक ठीक ढंग से पौधों का पालन-पोषण करने पर 2120-2120 की प्रोत्साहन राशि मुहैया करवाई जाएगी. जिला बागवानी अधिकारी ने बताया कि बेरी का बाग लगाने पर 3400 रुपए प्रति एकड़ का अनुदान व दो साल तक 1133-1133 रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी.

10 एकड़ बागवानी करने पर अनुदान

एक किसान को अधिकतम 10 एकड़ तक बागवानी करने पर अनुदान एवं प्रोत्साहन राशि प्रदान करने का प्रावधान किया गया है. विभाग द्वारा बागवानी का किसानों तक प्रचार-प्रसार पहुंचाने के लिए विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों को संचालित किया जा रहा है. बागवानी खेती करने के इच्छुक किसान किसी भी कार्य दिवस को आकर विभाग के कार्यालय में सम्पर्क कर सकते हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!