हिसार सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी जयप्रकाश ने चौटाला परिवार के तीनों सदस्यों को हराया, इस तरह लिखी गई जीत की कहानी

हिसार | हरियाणा की हिसार लोकसभा सीट (Hisar Loksabha Seat) पर चुनावी नतीजे बेहद ही चौंकाने वाले रहे. यहां से चौधरी देवीलाल परिवार के 3 सदस्य चुनावी रण में थे, तो वहीं कांग्रेस ने जयप्रकाश उर्फ जेपी को प्रत्याशी बनाया था. जेपी ने इस सीट पर जीत हासिल कर चौटाला परिवार के 3 सदस्यों को एक साथ हार का स्वाद चखाया है.

Hisar Lok sabha

कांग्रेस ने 20 साल बाद चखा जीत का स्वाद

हिसार लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी जयप्रकाश ने कुल 5,70,424 वोट हासिल कर सूबे की नायब सैनी सरकार में बिजली मंत्री एवं बीजेपी प्रत्याशी रणजीत चौटाला को 63,381 वोटों से शिकस्त दी. रणजीत चौटाला को 5,07,043 वोट मिले, जबकि JJP प्रत्याशी नैना चौटाला और INLD प्रत्याशी सुनैना चौटाला को 22- 22 हजार के करीब वोट मिले हैं. इन दोनों ही प्रत्याशियों को करारी हार का सामना करना पड़ा है.

जयप्रकाश उर्फ जेपी ने इस जीत के साथ ही हिसार लोकसभा सीट पर 20 साल बाद कांग्रेस पार्टी की वापसी करवाई है. उन्होंने चौथी बार हिसार लोकसभा सीट से जीत हासिल कर हिसार जिले में कांग्रेस की दमदार वापसी में एक तरह से संजीवनी का काम किया है. उनका चुनाव पूरी तरह से जनता ने लड़ा और बीजेपी को हराने के लिए निकले किसानों ने बंपर वोटिंग कर जेपी को जीत का आशीर्वाद दिया.

टिकट कटने की नाराजगी आई सामने

वहीं, पिछले 15 साल से सिरसा से हिसार में आकर लोगों से मिलने- जुलने का बीजेपी प्रत्याशी रणजीत चौटाला का रसूख भी उनकी जीत पक्की नहीं कर सका. हिसार शहर के लोगों ने भी बीजेपी का उतना साथ नहीं दिया, जितना पार्टी उम्मीद लगाए बैठी थी. ऐन मौके पर निर्दलीय विधायक रणजीत चौटाला को बीजेपी ने पार्टी ज्वाइन करवाकर हिसार लोकसभा सीट पर उम्मीदवार बनाया था, जो कुलदीप बिश्नोई, कैप्टन अभिमन्यु, रणबीर गंगवा के समर्थकों को रास नहीं आया क्योंकि ये तीनों ही नेता हिसार सीट से टिकट के मजबूत दावेदार थे.

इससे कार्यकर्ताओं में नाराजगी कम होने की बजाय बढ़ती चली गई और चुनावी परिणाम में इन तीनों नेताओं के विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी जयप्रकाश ने जीत हासिल की. इसके अलावा, बीजेपी प्रत्याशी रणजीत चौटाला को किसानों के जबरदस्त विरोध का भी सामना करना पड़ा था.

बड़े नेताओं के गढ़ में हारी बीजेपी

बीजेपी आंकलन लगाएं बैठी थी कि उसे हिसार शहर से करीब 80 हजार तक वोटों की बढ़त मिलेगी. इसके अलावा, हांसी, आदमपुर, नलवा में भी बीजेपी बड़े अंतर से अपनी जीत की उम्मीद लगाए बैठी थी लेकिन वोटर्स ने इन उम्मीदों को करारा झटका दिया. कांग्रेस प्रत्याशी जयप्रकाश को नारनौंद, उचाना और उकलाना से जबरदस्त बढ़त मिली, जो आखिर तक जारी रहते हुए जीत की पटकथा लिख गई.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!