हरियाणा के इस गांव की पंचायत ने  किया लॉकडाउन के बहिष्कार का फैसला, आइसोलेशन वार्ड भी हटाया

हिसार । हिसार के मसूदपुर गांव के लोगों ने पंचायत कर यह फैसला लिया कि अब से गांव के लोग लॉकडाउन के नियमों को नहीं मानेंगे साथ ही गाँव में मौजूद आइसोलेशन वार्ड को भी हटा दिया गया. पंचायत में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि सरकारी लॉकडाउन का बहिष्कार किया जाएगा गांव में पुलिस और डॉक्टरों को नहीं घुसने दिया जाएगा और पंचायत अपने स्तर पर गांव के लिए नए नियम लागू कर खुद का लॉकडाउन लगाएगी.  जैसे ही यह खबर प्रशासन तक पहुंची तो प्रशासन के अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए क्योंकि गांव में कोरोना संक्रमण के मामले ज्यादा मिल रहे हैं ऐसे में गांव वालों का यह फैसला भविष्य में भी प्रशासन के लिए परेशानियों का सबब बन सकता है.

masudhpur village news

गौरतलब है कि बीते रविवार को किसानों और पुलिस के बीच झड़प में कई ग्रामीण और कुछ पुलिस वाले भी घायल हुए थे पुलिस ने लाठीचार्ज किया था जिसमें कई किसानों को चोटें पहुंची थी इसी को लेकर ज्यादातर ग्रामीणों में गुस्सा है यहां की ज्यादातर आबादी किसान आंदोलन के समर्थक है मंगलवार को गांव में पंचायत की गई जिसमें सभी समुदायों के लोगों ने शिरकत की पंचायत में यह निर्णय लिया गया कि सरकार ने जो लॉकडाउन के नियम लागू किये हैं उनका गांव की पंचायत पूर्ण रूप से बहिष्कार कर रही है और निर्णय लिया गया कि अगले 15 दिन तक गांव में किसी भी आदमी को नहीं गांव में घुसने दिया जाएगा ना ही गांव से कोई आदमी बाहर जाएगा गांव में स्थित दुकान पूरे समय खुली रहेंगी शोक सभा और शादी के कार्यक्रम किए जा सकेंगे प्रशासन को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने ग्राम पंचायत से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन पंचायत ने अपना फैसला वापस लेने से इंकार कर दिया.

अब तक हो चुकी हैं 25 लोगों की मौत

जैसा कि हाल-फिलहाल के आंकड़ों में देखा गया है कि गांव में संक्रमण के मामले ज्यादा मिल रहे हैं. ऐसे में हिसार का यह गांव भी अछूता नहीं है .पिछले 1 माह के दौरान गांव में करीब 25 लोगों की मौत हो चुकी है लेकिन उनका कारण अलग-अलग बीमारियां बताया जा रहा है इसके बावजूद गाँव वालों का यह रवैया वाकई परेशानियां पैदा करने वाला है हालांकि गांव के कुछ जागरूक युवा इस बात का विरोध कर रहे हैं उन्होंने कहा कि अगर गांव की तरफ से ऐसा कदम उठाया जाता है तो इससे गांव की मौजूदा स्थिति बिगड़ सकती है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा की लाडो ने चलाया अभियान, बच्चियां 20 जून को प्रधानमंत्री मोदी को बोलेंगी "थैंक्यू"

पुलिस के चालान काटे जाने से भड़के ग्रामीण

बीडीपीओ की एक रिपोर्ट की माने तो गांव में पुलिस ने चालान काटे जिसके कारण ग्रामीणों में पुलिस के प्रति रोष है गांव का माहौल भी तनाव ग्रस्त है

बताया जा रहा है कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर गांव में कुछ दुकानदारों और ग्रामीणों के पुलिस द्वारा चालान काटे गए जिससे लोग भड़क गए करीब 25 से 30 व्यक्ति विरोध करने के इरादे से बैठे हुए हैं.हालांकि सरपंच प्रतिनिधि से प्रशासन ने संपर्क किया तो उन्होंने इन लोगों को समझाया. फिलहाल गांव में स्थिति शांतिपूर्ण बताई जा रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!