जींद में टोल पर फिर किसानों ने किया कब्जा, जानिए इस बार क्या है वजह

नरवाना । किसान आंदोलन समाप्त होने के बाद टोल प्लाजा को शुरू हुए अभी कुछ ही दिन हुए थे कि एक बार फिर से किसानों ने टोल प्लाजा पर कब्जा कर लिया. भारी संख्या में इकट्ठा होकर किसान हिसार- चंडीगढ़ हाइवे पर स्थित बद्दोवाल टोल प्लाजा को सोमवार को फिर से वाहनों के लिए फ्री कर दिया. किसान आंदोलन की समाप्ति के बाद करीब 10 दिन पहले ही इस टोल को फिर से चालू किया गया था.

यह भी पढ़े -   युवाओं के लिए Role Model हैं कर्नल नेहरा, मार्गदर्शन में युवा सेना कर रहे हैं ज्वॉइन

TOLL

टोल से जुड़ी मांगों को लेकर भारी संख्या में आसपास के ग्रामीण व किसानों ने यहां इकट्ठा होकर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया. वहीं सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की लेकिन ग्रामीण अपनी मांगों को लेकर अड़े हुए हैं. बता दें कि ग्रामीणों और किसानों की मांग है कि टोल के 14 किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी निजी गांवों के वाहनों को टोल फ्री किया जाएं.

किसानों का कहना है कि जींद के वाहनों से कागजातों के आधार पर आधा टोल टैक्स वसूला जाएं और यदि कोई वाहन चालक गलती से Fastag की लाइन में आ जाता है तो उससे दोगुना टोल टैक्स न वसूला जाएं. उससे कैश लाइन के हिसाब से ही टोल वसूली की जाएं.

यह भी पढ़े -   सरसों तेल के दाम में गिरावट का दौर जारी, बाजार विशेषज्ञों ने जताया ये अनुमान

बता दें कि हिसार- चंडीगढ़ हाइवे पर स्थित यह टोल नरवाना क्षेत्र में आता है. सोमवार को आसपास के गांवों से बड़ी संख्या में ग्रामीण और किसानों के इस टोल पर पहुंचने से अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया. लोगों ने टोल के सभी गेट खोल दिए और गुजरने वाले वाहनों से टोल वसूली रुकवा दी. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने टोल प्रबंधन और किसानों से बातचीत की और मामले का हल निकालने की कोशिश की. फिलहाल मामले का समाधान नहीं हुआ है और टोल फ्री ही चल रहा है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!