कैथल में बंद कमरे में नाबालिग की शादी, दरवाजा खुला तो अधिकारी भी सन्न

कैथल। कैथल के गांव छौत से एक हैरानी भरा वाक्या सामने आया है. यहां एक मकान के बंद कमरे में 15 साल की किशोरी की शादी 24 साल के टैक्सी ड्राइवर से कर दी गई. 1091 हेल्प लाइन नंबर पर सुचना के बाद जब बाल विवाह निषेध अधिकारी सुनीता शर्मा की टीम मौके पर पहुंची तो नाबालिग लड़की की विदाई हो रही थी.टीम ने जब दुल्हन बनी किशोरी से बात की तो उसने बताया कि उसे नहीं पता कि उसकी शादी हो रही है.

यह भी पढ़े -   क्या मां ऐसी भी हो सकती है, जिस बेटी को 9 महीने कोख में रखा, उसे ही अपनाने से किया इनकार

DULHAN

वह दसवीं कक्षा में पढ़ती है और दो महीने पहले ही उसने स्कूल जाना बंद किया था.वही दुल्हा बनकर आए युवक ने कहा कि उसे दुल्हन नहीं दिखाई गई, परिवार के लोगों ने ही रिश्ता तय किया था. वह तो भोला भाला है, परिवार के कहने पर ब्याह कर रहा है.7 मार्च को रचाएं गए इस विवाह को लेकर सदर थाना पुलिस ने दुल्हे, नाबालिग की मां, पिता व चाचा पर केस दर्ज कर लिया है.

यह भी पढ़े -   शादी के 24 घंटे के बाद दुल्हन फरार, वापिस लेने गए दूल्हे को पीटा, वजह हैरान कर देगी

पड़ोसियों तक को नहीं थी, विवाह की खबर

ब्याह की खबर पड़ोस में रहने वालों तक को नहीं थी. दुल्हा व कुछ लोग चुपके से आएं ओर घर के अंदर चलें गए. जब बाल विवाह निषेध अधिकारी सुनीता शर्मा मौके पर पहुंची तो गांव वालों को शादी की खबर लगी.जब अधिकारी सुनीता शर्मा ने किशोरी की उम्र संबंधित दस्तावेज मांगे तो लड़की की उम्र 15 साल निकली . लेकिन देरी से सुचना मिलने के कारण वह समय पर नहीं पहुंच सकीं, नाबालिग की शादी हो चुकी थी.

यह भी पढ़े -   मर्डर केस में फरार चल रहे सुशील कुमार पर भारतीय कुश्ती संघ की बड़ी कार्रवाई, जाने क्या

उन्होंने बताया कि यह शादी पुरी तरह से अवैध है. उन्होंने इस मामले को लेकर सदर थाना में शिक़ायत दर्ज करवाईं है. जांच अधिकारी एएसआई रमेश कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने बालाजी कालोनी निवासी पति गुरदीप सिंह,पयौदा रोड़ निवासी रमेश,छौत गांव निवासी मां सरोज, पिता रामफल व चाचा बसाऊ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!