दिल्ली में पुरानी गाड़ियों को कबाड़ करने पर रोक, लेकिन बदलना होगा KIT 

नई दिल्ली । यदि आपके पास 10 साल पुराने चार पहिया पेट्रोल और डीजल से संचालित वाहन है तो यह खबर आपके लिए एक खुशखबरी की तरह है. बता दे कि दिल्ली में सत्तासीन आम जनता पार्टी की सरकार दिल्लीवासियों के लिए एक बड़ी राहत लेकर आई है. आम आदमी पार्टी ने 10 साल पुराने पेट्रोल और डीजल वाहनों को इलेक्ट्रिक में कन्वर्ट करने का रास्ता खोल दिया है.

यह भी पढ़े -   फिर से महंगाई का बड़ा झटका, इतना महंगा हुआ एलपीजी गैस सिलेंडर

traffic jam

 सरकार ने दिया दिल्लीवासियों को बडा तोहफा 

इस वजह से राजधानी दिल्ली में अब 10 साल पुराने पेट्रोल व डीजल वाहन के मालिको के लिए यह खबर राहत देने वाली है. इसके लिए दिल्ली सरकार ने अपनी तैयारियां भी तेज कर दी है. दिल्ली सरकार ने ऐसे पेट्रोल व डीजल वाहनों में इलेक्ट्रिक ऑपरेशन के लिए इलेक्ट्रिक रेट्रो फिटमेंट किट के निर्माता और आपूर्तिकर्ताओं को सूची बंद करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है. दिल्ली परिवहन विभाग ने भी इस संबंध में एक पब्लिक नोटिस जारी किया. इस नोटिस में कहा गया कि इन वाहनों में इलेक्ट्रिक प्रोपल्शन के रेट्रो फिटमेंट सहित प्योर इलेक्ट्रिक ऑपरेशन के लिए इलेक्ट्रिक रेट्रो फिटमेंट किट के निर्माता आपूर्तिकर्ता ऐसे वाहनों में मेक एंड माइल्ड के बारे में परिवहन विभाग को जानकारी उपलब्ध करवाएं. दिल्ली में बड़ी संख्या में ऐसे डीजल वाहन है जो 10 साल से भी पुराने है . दिल्ली में इन्हें चलाने की अनुमति नहीं है, परन्तु इन वाहनों की हालत ठीक है. नियम अनुसार अगर यह वाहन सड़क पर आते हैं तो इन्हें जब्त कर लिया जाएगा. ऐसे में वाहन चालक संकट में थे. इसी बीच दिल्ली सरकार ने इसके बीच का रास्ता ढूंढा है. दिल्ली एनसीआर में 10 साल पुराने पेट्रोल और डीजल वाहनों की संख्या लाखों में है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!