Chanakya Niti: बार- बार मिल रहे हैं यह संकेत, तो हो जाओ सतर्क – बढ़ने वाली है आर्थिक परेशानियां

नई दिल्ली | आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में बताया था कि जब भी बुरा समय आने वाला होगा, आपको पहले से ही उसका आभास होने लगता है. उन्होंने कहा था कि यदि हम घर या आसपास घटने वाली कुछ घटनाओं पर ध्यान दे, तो हमें पता लग सकता है कि अब हमारा बुरा वक्त शुरू होने वाला है.

chanakay

ये संकेत करते हैं आर्थिक संकट की ओर इशारा

अपने नीति शास्त्र में आचार्य चाणक्य ने ऐसे कई संकेतों के बारे में बताया है, जो घर पर आने वाले आर्थिक संकट की ओर इशारा करते हैं. आज हम आपको इस खबर में आचार्य चाणक्य के उन संकेतों के बारे में जानकारी देंगे, जो आपके घर पर आने वाले आर्थिक संकट की ओर इशारा करते हैं. इनमें मुख्य तुलसी के पौधे का सुख जाना, घर में कलेश होना, शीशे का बार-बार टूटना, पूजा-पाठ का अभाव और बड़े बुजुर्गों का तिरस्कार करना आदि शामिल है.

माँ लक्ष्मी की कृपा के लिए तुलसी के पौधे का रखें विशेष ध्यान 

यदि आपके घर या आंगन में लगा तुलसी का पौधा सूखने लगता है, तो समझ जाइए कि आपके घर पर आर्थिक संकट आने वाला है. इसलिए चाणक्य जी कहते है तुलसी के पौधे का आपको पूरा ध्यान रखना चाहिए. यदि आपके घर में सदस्यों के साथ हमेशा लड़ाई होती रहती है, तो समझ लीजिए कि आपके घर में कभी भी मां लक्ष्मी का वास नहीं हो सकता.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: मिड- डे मील बनाने वाले रसोइयों के लिए बड़ी खुशखबरी, शिक्षा विभाग ने दोगुना किया वेतन

वास्तु शास्त्र में शीशे के टूटने को काफी अशुभ माना जाता है, चाणक्य जी कहते थे कि जिस घर में शीशा बार बार टूटता है.  समझ जाइए कि उस घर में आर्थिक स्थिति खराब होने वाली है. वही घर में सुख समृद्धि के लिए रोजाना पूजा-पाठ करना जरूरी है,  जिस घर में रोजाना पूजा पाठ होता है.  वहां पर मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है और जिस घर में रोजाना पूजा पाठ नहीं होता वहां पर मां लक्ष्मी का वास भी नहीं होता.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!