हरियाणा जबरन धर्म परिवर्तन मामले में सरकार का बड़ा कदम, अनिल विज बोले- अब STF करेगी मामले की जांच

मेवात | हरियाणा के नूंह में दो व्यक्तियों का जबरन धर्म परिवर्तन करने का मामला बीते कई दिनों से सुर्खियों में है. मामले को तूल पकड़ते देख सरकार ने फैसला लिया है कि अब विशेष कार्य बल (एसटीएफ) द्वारा पूरे मामले की तहकीकात की जाएगी. हरियाणा से गृहमंत्री अनिल विज ने बुधवार को अपने बयान में कहा कि पुलिस ने नूंह में दर्ज जबरन धर्म परिवर्तन मामले में आरोपी अबू बकर और उसके साथी सहजाद को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच के लिए एक विशेष कार्य बल (एसटीएफ) का गठन किया गया है. प्रदेश सरकार ने जबरन धर्मांतरण रोकने के लिए एसटीएफ (STF) गठित की है.

यह भी पढ़े -   भिवानी के देवसर गांव में गिरी आसमानी बिजली, दो लोगों की मौके पर मौत 4 घायल

Police Photo

विज ने बताया कि 21 अगस्त को मनोज नाम के व्यक्ति ने रोजका मेव पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी कि अबू बकर ने उसका जबरन धर्म परिवर्तन कराया है. इसी तरह 22 अगस्त को एक अन्य व्यक्ति ने भी नूंह के थाना सिटी में प्राथमिकी दर्ज करायी थी कि अबू बकर और उसके साथियों ने उसका भी जबरन धर्म परिवर्तन कराया है. उन्होंने कहा कि इन दोनों मामलों को अब एसटीएफ को स्थानांतरित कर दिया गया है, जो इन मामलों की गहन जांच करेगा.

यह भी पढ़े -   शर्मनाक: दिल्ली पुलिस के जवान की हैवानियत, 3 बेटियां होने पर पत्नी को दिया ज़हर

जानकारी के लिए बता दें कि हरियाणा नूंह के बारोटा गांव के मनोज कुमार ने दो मौलानाओं, अबू बकर सहित चार के खिलाफ जमीन, जायदाद, शादी एवं रुपयों का लालच देकर जबरन धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में रोजका मेव थाने में मामला दर्ज कराया गया था. जबकि नूंह के देवेंद्र उर्फ लील्लू ने भी अच्छी नौकरी का लालच देकर उसका धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में सलंबा के अबू बकर एवं उसके अन्य साथियों के खिलाफ नूंह सिटी थाना में मामला दर्ज कराया था. जबरन धर्म परिवर्तन के इस मामले में कई एजेंसियां तहकीकात कर रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!