रोहतक के टिटौली में 3 और मौतें, 8 दिन में 1176 केस गांवों में मिले

रोहतक ।  पिछले 8 दिनों में कोरोना की दूसरी लहर में 2955 कोरोना संक्रमित मरीज पाए जा चुके हैं. इनमें से 1176 ग्रामीण है और 1793 शहरी मरीज है. इसमे कलानौर व काहनौर में 20, चिड़ी गांव में 24, खरकड़ा, बलंभा व खेड़ी महम गांव में 30, टिटौली गांव में 70 से अधिक मामले पाए जा चुके हैं. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि सभी गांवों में विशेष स्क्रीनिंग कैंप लगाए जाएंगे.

ROHTAK TITOLI NEWS

वीरवार को टिटौली गांव में तीन और कोरोना संक्रमित मरीजों की मृत्यु हो गई. स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कोरोना वायरस से कुल मौतों की संख्या की पुष्टि नहीं हो पाई है. स्वामी दीक्षेंद्र आर्य ने जानकारी देते हुए कहा कि 3 मरीजों को पहले तो केवल बुखार था. अब गांव में मरने वालों की संख्या 35 हो गई है. जिले के पीएचसी और सीएचसी स्तर पर नियुक्त डॉक्टरों की तरफ से गांव में लगभग हर तीसरे चौथे घर में जुखाम, खांसी और बुखार के मरीज है.

डॉक्टरों के अनुसार गांव के लोगों का मानना है कि वह घरेलू व देसी उपचार से स्वस्थ हो जाएंगे, लेकिन इससे उनकी सेहत और बिगड़ जाती हैं. वीरवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि गांव के क्षेत्रों में संक्रमण का प्रसार ज्यादा हो रहा है. इसलिए प्रत्येक गांव में स्वास्थ्य जांच कैंप लगेंगे. जिससे जल्द से जल्द संक्रमण पकड़ में आ सके. सीएम ने टेस्टिंग बढ़ाने की बात कही है. इन स्वास्थ्य कैंपों के जरिए डीसी यह सुनिश्चित करेगा कि राज्य के लगभग 60 लाख परिवारों के प्रत्येक सदस्य को ट्रैक किया जा सके.

यह भी पढ़े -   फिल्म देखकर सीखा पेट्रोल बम बनाना, फिर फेंक दिया चाचा के घर

स्वामी इंद्र वेश आश्रम और आर्य समाज केंद्र की तरफ से गांव टिटौली की गलियों में प्रतिदिन सुबह 6:00 बजे से लेकर 10:00 बजे और शाम 5:00 बजे से लेकर 8:00 बजे तक ट्रॉली घुमाई जाती है. गांव के लोग इस यज्ञ में नीम, जायफल, जावित्री, लोबान, कपूर, चिरायता, तुलसी, गिलोय के साथ-साथ अनेक प्रकार की आयुर्वेदिक औषधियों की अवधि डालते हैं. वीरवार को हवन में पुलिसकर्मियों और गांव के लोगों ने निरोग रहने की कामना को लेकर आहुति डाली.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!