जाटी कलां गांव में हर तीसरे घर में बुखार का मरीज़, हो चुकी है 16 लोगों की मौत

सोनीपत । जिले के गांव जाटी कलां में कोरोना महामारी ने विकराल रूप धारण कर लिया है. यहां कोरोना संक्रमित केसों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. गांव के हर तीसरे घर में बुखार से पीड़ित रोगी देखने को मिल रहा है. गांव में बीते 8 दिनों में 16 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. मरने वाले लोगों में कोरोना महामारी के लक्षण नजर आए थे. गुरुवार को जब मीडिया ग्राउंड लेवल पर रिपोर्ट के लिए पहुंची तो गांव की गलियां सूनी-सूनी नजर आईं.

JATI KALAN VILLAGE SONIPAT

File Image: कोरोना से पहले जाटी कलां गांव के बुजुर्गो का फोटो.

गांव की आबादी आठ हजार के आस-पास है. गांव के लोग गलियों में आने जाने वालों को खिड़की से ही ताक रहे थे. गांवों के लोगों ने बीमारी के डर से एक-दूसरे से मिलना जुलना तक बंद कर दिया है. पड़ोसी आपस में एक-दूसरे के घर जाने से कतराते हुए नजर आ रहे हैं.

यह भी पढ़े -   कपास उत्पादकों के लिए कृषि विभाग ने जारी की जरूरी एडवाइजरी, दी यह सलाह

स्वास्थ्य कर्मी बुखार से पीड़ित रोगियों की जानकारी लेने के लिए गांव में लगातार आ रहे हैं. महामारी की वजह से गांव में हर दूसरे दिन किसी न किसी घर में मौत हो रही है. सीएचसी बढ़खालसा की सीनियर चिकित्सक डॉ चितवन ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव पर नजर बनाए हुए हैं और बीमारी से ग्रस्त मरीजों के उपचार में जुटी है.

यह भी पढ़े -   15 जून से हरियाणा में सीरो-सर्वे की शुरुआत, 6 साल से ऊपर के बच्चों का भी होगा ब्लड टेस्ट

झज्जर: 22 गांवों में केस सामने आ रहे हैं

जिले के 22 गांवों में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या ज्यादा आ रही है. झाड़ली,बाजितपुर व बेरी में माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है. एक सप्ताह में आएं 2271 केसों में से 1431 ग्रामीण क्षेत्रों से हैं. अब तक हुई 37 मौतों का अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकॉल के तहत किया जा चुका है.

हिसार: बहबलपुर में अभ तक 16 की मौत

बहबलपुर गांव में महामारी की वजह से 16 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. गांव में बुखार कहर बरपा रहा है. तीन लोगों की मौत बुधवार को जबकि एक व्यक्ति की मौत गुरुवार को हुई है. गांव के सरपंच ने बताया कि लोग बीमारी के डर से घरों में दुबके हुए हैं. लोगों को अभी तक बीमारी का रहस्य ही नहीं समझ में आ रहा है. गांव के पड़ोसी गांव में स्थित धांसू पीएचसी में गंभीर मरीजों के इलाज के लिए कोई उचित व्यवस्था नहीं है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!