दिवाली पर्व पर आतिशबाजी को लेकर हुआं विवाद, पड़ोसी ने बाप-बेटों को चाकुओं से गोदा

सोनीपत । हरियाणा के सोनीपत जिले से दिवाली पर्व पर एक रौंगटे खड़े कर देने वाली खबर सामने आई है. यहां सिविल लाइन सैनीपुरा क्षेत्र में दिवाली पर पटाखे जलाने को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि दो युवकों और उनके पिता को चाकुओं से गोद दिया गया. घायल अवस्था में तीनों को अस्पताल ले जाया गया जहां उपचार के दौरान एक युवक की मौत हो गई. पुलिस ने मृतक के पिता की शिकायत पर हत्या और जानलेवा हमला करने की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में बड़ा सड़क हादसा, 1 शख्स की मौत 35 घायल

death

पीड़ित सैनीपुरा क्षेत्र निवासी श्याम सिंह ने पुलिस को बताया कि बुधवार की रात छोटी दिवाली पर्व पर उसका छोटा बेटा गली में आतिशबाजी कर रहा था. पटाखों की आवाज सुनकर पड़ोसी मोहित अपने भाई जसवंत के साथ घर से बाहर आया और झगड़ा करने लगे. इस दौरान दो और युवक उनके साथ थे. श्याम सिंह ने बताया कि झगड़े की आवाज सुनकर वह अपने दूसरे बेटे के साथ बाहर आया.

हमने मोहित और उसके साथ मौजूद लोगों को समझाया कि दिवाली पर्व पर खुशियां मनाने का समय है, पड़ोसी होकर आपस में झगड़ते नहीं है लेकिन वो नहीं मानें और उन्होंने पकड़ कर हम पर चाकुओं से एक के बाद एक कई वार कर दिए.

यह भी पढ़े -   महेंद्रगढ़ के दूल्हे ने दहेज में मांगी क्रेटा, मां-बाप सहित गिरफ्तार

इस दौरान वहां मौजूद अन्य पड़ोसियों ने उन्हें बचाया और घायल अवस्था में हमें अस्पताल लेकर आए. अस्पताल में उपचार के दौरान बेटे गौरव की मौत हो गई जबकि गंभीर हालत में श्याम सिंह और सचिन को रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया है. बताया जा रहा है कि गौरव और सचिन का एक महीने पहले किसी बात को लेकर मोहित से विवाद हुआ था.

यह भी पढ़े -   सोनीपत: संपत्ति लेकर दादी को छोड़ा बेसहारा, अब हाईकोर्ट में जमीन सहित 25‌ लाख रुपए हारा

फिलहाल पुलिस ने श्याम सिंह की शिकायत पर मोहित, जसवंत व 2 अन्य लोगों के खिलाफ हत्या व हत्या प्रयास के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया. जांच अधिकारी ने बताया कि इस घटना के बाद आरोपित फरार है लेकिन बहुत जल्द उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!