डेढ़ साल से परेशान है हरियाणा, पंजाब और दिल्ली के यात्री, जानिये वजह

सोनीपत । सोनीपत- गोहाना -जींद रेल मार्ग पर डेढ़ साल से ट्रेनों का परिचालन बंद है. जिस वजह से गोहाना से सोनीपत -दिल्ली- जींद और पंजाब जाने वाले यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. यात्रियों को बसों व दूसरे सवारी वाहनों में सफर करना पड़ रहा है. जिस वजह से यात्रियों का रोजाना का किराया 4 से 5 गुना बढ़ गया. अब ट्रेनें कब तक चलेगी,  इस बारे में स्थानीय अधिकारियों को कुछ भी नहीं पता.

यह भी पढ़े -   कृषि मंत्री के गांव में एक युवक को सुनाई गई तालिबानी सजा, जानें क्या है मामला

RAIL TRAIN

पिछले डेढ़ साल से परेशान हैं इन राज्यों के यात्री

मार्च 2020 में कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन में जींद -गोहाना सोनीपत और रोहतक गोहाना पानीपत रूट पर ट्रेनों का परिचालन रोक दिया गया था. बता दें कि इन दोनों रूटों पर तकरीबन 20 ट्रेनें चलती थी, इनमें 14 पैसेंजर और 6 एक्सप्रेस शामिल थी. दिसंबर 2020 में हरिद्वार बीकानेर के बीच एक्सप्रेस ट्रेन को शुरू किया गया था. यह ट्रेन गोहाना रेलवे स्टेशन से सप्ताह में मंगलवार, बृहस्पतिवार व शनिवार को गुजरती है. वहीं रेलवे द्वारा अजमेर से चंडीगढ़ के बीच भी ट्रेन  चलाई जा रही है.

यह भी पढ़े -   अब 50 हजार की बजाय 30 हजार तक की प्राइवेट सेक्टर की नौकरियों में हरियाणा के युवाओं को मिलेगा 75% आरक्षण

यह दोनों ट्रेनें रोहतक गोहाना पानीपत से होकर जाती है. गोहाना से आने वाले सैकड़ों यात्री इन ट्रेनों से सोनीपत -दिल्ली और पंजाब जाते थे. डेढ़ साल से सोनीपत से जींद के बीच ट्रेनों का परिचालन बंद है. इस वजह से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. वही ट्रेनें बंद होने की वजह से रेलवे को राजस्व का नुकसान हो रहा है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!