वैज्ञानिकों ने खोज निकाला इसका जवाब कि दुनिया पहले मुर्गी आई थी या अंडा, जाने

नई दिल्ली। दुनिया में पहले मुर्गी आई या अंडा, इसका जवाब वर्षों से वैज्ञानिक तलाश कर रहे थे. बता दे कि अब ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने इसका जवाब ढूंढ लिया है, ब्रिटेन के वैज्ञानिकों के अनुसार इस दुनिया में सबसे पहले मुर्गी ही आई थी. ब्रिटेन के शेफील्ड और वारविक विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने इस पर अध्ययन किया. इस अध्ययन के लेखक डॉ कोलिन फ्रीमैन ने कहा कि दुनिया भर के वैज्ञानिक काफी सालों से इसका जवाब खोज रहे थे, परंतु वे इसमें सफल नहीं हो पा रहे थे.

यह भी पढ़े -   मरे हुए मुर्गे को लेकर पुलिस स्टेशन पहुंच गई महिला, मुर्गे का हुआ है मर्डर

BIRDMURGIHEN

जानिये पहले मुर्गी आई थी या अंडा 

अब यह साबित हो गया है कि पहले मुर्गी ही आई थी. इस पर शोधकर्ताओं का कहना है कि अंडे के तैयार होने के लिए ओवोक्लाइडिन नाम का प्रोटीन होना जरूरी है. इस प्रोटीन के बिना अंडे का निर्माण नहीं हो सकता. यह खास तरह का प्रोटीन गर्भवती होने के दौरान गर्भाशय में बनता है. जिससे यह स्पष्ट होता है कि पहले मुर्गी ही आई थी, अंडा नहीं. शोधकर्ताओं ने इसका पता लगाने के लिए हाइटेक कंप्यूटर हेक्टर का इस्तेमाल किया.

इसी दौरान वैज्ञानिकों ने अंडे के खोल का मॉलिक्यूलर स्ट्रक्चर समझा. वही अध्ययन के दौरान यह भी पाया गया कि ओवोक्लाइडिन प्रोटीन की मदद से कैल्शियम कार्बोनेट अंडे के खोल में बदलने लगते हैं. शोधकर्ता डॉ कोलिन ने बताया कि कैलीसिट क्रिस्टल मुर्गियों की हड्डियों और अंडे के खोल में पाया जाता है. जब अंडा पूरी तरह से तैयार हो जाता है तो वह बाहर आ जाता है. अधिकतर मुर्गियां हर 24 से 36 घंटे में अंडे देती है. डॉक्टर कोलिन ने बताया कि पहले मुर्गी आई या अंडा इसका जवाब तो मिल गया,  परंतु दुनिया में मुर्गी कैसे विकसित हुई इसका जवाब अभी भी मिलना बाकी है. दुनिया के कई वैज्ञानिक इनके विकास के सवाल का जवाब तलाशने में लगे हुए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!