सरकार के आदेशों को ठेंगा दिखा खुले रहे निजी स्कूल, प्रशासन बना मूकदर्शक

भिवानी । लगातार कोंरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है. लेकिन इसके बावजूद भी प्राइवेट स्कूल संचालक सीएम मनोहर लाल के आदेशों की सरेआम धज्जियां उड़ाते हुए नजर आए. भिवानी में सारे प्राइवेट स्कूल खुले रहे. बता दे कि सीएम ने 3 दिन पहले ही, पहली से आठवीं कक्षा तक के स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए थे.

SCHOOL BUS 2

स्कूल संचालकों ने CM के आदेश की उड़ाई धज्जियां 

वही स्कूल संचालकों ने चेतावनी दी थी कि अगर कोई अधिकारी स्कूल बंद करवाने आया, तो उसे स्कूल में घुसने नहीं दिया जाएगा. कोरोना के केस आए दिन बढ़ते जा रहे हैं.हर रोज नया आकड़ा सामने आ रहा है. जिसके चलते सीएम ने 3 दिन पहले गुरुग्राम में स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए थे. उन्होंने कहा था कि 30 अप्रैल तक पहली से आठवीं कक्षा तक के स्कूल बंद रहेंगे. सीएम के आदेश के अगले दिन ही हरियाणा में प्राइवेट स्कूल संचालकों ने चेतावनी दी थी कि वे यह फैसला नहीं मानेंगे. साथ ही उन्होंने कहा कि 19 अप्रैल को भी शिक्षा बोर्ड का घेराव भी करेंगे.

यह भी पढ़े -   बड़ी अपडेट: घर में आइसोलेट कोरोना संक्रमित को घर पर ही पहुंचाई जाएगी ऑक्सीजन

किसी भी हालत में स्कूल बंद नहीं करेंगे, स्कूल संचालक 

वही 20 अप्रैल से होने वाली 10वीं व 12वीं की परीक्षाओं का भी बहिष्कार करने का एलान किया था. अपने ऐलान के मुताबिक ही निजी स्कूल संचालकों ने आज अपने स्कूल खुले रखे और मासूम बच्चों की पढ़ाई जारी रखी. हरियाणा प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष रामअवतार शर्मा ने बहाना बनाया कि उनके पास स्कूल बंद करने के लिए कोई भी लिखित आदेश नहीं आया है. साथ ही उन्होंने कहा कि कोई अधिकारी स्कूल बंद करवाने आया तो वे उन्हें स्कूल में नहीं घुसने देंगे. अगर स्कूल बंद करने के आदेश आते हैं तों भी वे स्कूल को बंद नहीं करेंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!