CBSE ने गलत अंक मिलने की शिकायतों पर उठाया ये बड़ा कदम, इस तरह चेक होगी आंसर शीट

नई दिल्ली | सेंट्रल बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन (CBSE) की तरफ से जारी की जाने वाली 10वीं 12वीं के रिजल्ट की मार्कशीट में अब किसी प्रकार की अंको से संबंधित गलतियां नहीं पाई जाएंगी. अब आंसर शीट को एक बार चेक करने के बाद उसे तीन अन्य टीचर क्रॉस चेक करेंगे. इसके पश्चात कंप्यूटर में भी मार्क्स की मैचिंग की जाएगी. सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार इस योजना के अंतर्गत स्टूडेंट की तरफ से मार्क्स के सत्यापन के लिए आने वाली शिकायतों में बहुत हद तक कमी आ जाएगी.

CBSE

सीबीएसई बोर्ड के 10वीं 12वीं के एग्जाम 4 मई 2021 से आरंभ होंगे. परंतु सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों ने आंसर शीट को चेक करने के लिए अभी से ही तैयारियां शुरू कर ली है. सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार सभी विद्यालयों को लेटर भेजकर स्टाफ से संबंधित जानकारियां मंगवाई गई हैं, ताकि मूल्यांकन टीमों का गठन करके आगे की रणनीति तैयार की जा सके.

यह भी पढ़े -   CBSE: दसवीं कक्षा का परिणाम इस दिन होगा घोषित, जाने पास फार्मूला

सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों के मुताबिक एग्जाम स्टार्ट होने के 1 सप्ताह के पश्चात ही मूल्यांकन आरंभ कर दिया जाएगा. 7 जून को दसवीं की परीक्षाएं और 11 जून को 12वीं की परीक्षाएं समाप्त होगी. मूल्यांकन कार्य में सतर्कता एवं तेजी के माध्यम से सीबीएससी बोर्ड जुलाई के पहले हफ्ते में ही एग्जाम का रिजल्ट घोषित करने का लक्ष्य बना रहा है.

यह भी पढ़े -   अभिभावकों को बड़ी राहत, अब निजी स्कूल छात्रों पर नहीं थोप सकेंगे प्राइवेट पुस्तक

सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार आंसर शीट को चेक करने के लिए चार-चार टीचरों की टीम बनाई जाएगी. आंसर शीट चेक होने के बाद तीन अन्य अध्यापक उसे क्रॉस चेक करेंगे. मूल्यांकन कार्य से जुड़ी सभी टीमों को पूरी पर सतर्कता बरतने के आदेश दिए गए हैं. इसके पश्चात कंप्यूटर के जरिए भी अंको का मिलान किया जाएगा. इस प्रकार अंकों में किसी प्रकार की गलती की गुंजाइश नहीं रहेगी.

यह भी पढ़े -   अब सरकारी स्कूलों में दाखिले के लिए नहीं चाहिए SLC, निजी स्कूलों को झटका

यदि किसी भी छात्र को ऐसा लगता है कि उसे एग्जाम में कम नंबर मिले हैं जबकि वह अधिक नंबर का हकदार था, तो वह CBSE बोर्ड के पास अंकों के सत्यापन हेतु अप्लाई कर सकता है. इसके पश्चात सीबीएसई बोर्ड उसकी आंसर शीट में दिए गए मार्क्स का मिलान मार्कशीट से करते हैं. यदि कहीं पर कोई मार्क्स छूट गया है तो उसे मार्कशीट के अंकों में जोड़ दिया जाता है और दोबारा नई मार्कशीट जारी की जाती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!