Samarpan Portal: हरियाणा के सीएम खट्टर ने लॉन्च किया “समर्पण पोर्टल”, कही ये बड़ी बातें

Samarpan Portal, चंडीगढ़ । समर्पण कार्यक्रम सहित कई डिजिटल प्लेटफार्म लॉन्च के अवसर पर हरियाणा के CM मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि क्यों न सरकार का एक प्लैटफॉर्म बनाया जाए जिसमें समर्पित और सेवाभाव के लोग जिनको अपने लिए कुछ नहीं चाहिए जो समय का उपयोग करते हए सेवाकार्य करना चाहते हैं.

Haryana CM Press Conference

CM खट्टर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि जिसमें निस्वार्थ भाव से काम करने वाले लोग हैं जो काम करके आगे आना चाहते हैं. मेरे पास बड़े अधिकारियों के दर्जनों नाम हैं जिन्होंने मुझसे कहा है कि हम जीरो सेलरी पर भी काम कर सकते हैं. वहां से ध्यान आया कि क्यों न हम स्वयंसेवकों का पोर्टल खोलें.

सीएम खट्टर ने कहा कि समाज के प्रति सेवा और समर्पण का भाव हमेशा बना रहना चाहिए. तभी हम एक अच्छे सशक्त और सुखी समाज की कल्पना कर सकते हैं. पंडित दीनदयाल कहा करते थे हमारी जो संस्कृति है, हमारी जो सभ्यता है वो त्याग प्रधान सभ्यता है. उन्होंने कहा सेवा की भावना जितनी ज्यादा रहेंगी उतनी ही हमारे समाज में प्रेम की रहेगी.

उन्होंने कहा कि केवल सरकारी सिस्टम से इन चीजों को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता, कई बार देखा जाता है समाज में एक तंत्र खड़ा किया जाए तो बहुत से लोग काम करने के लिए आगे रहते हैं. अभी तक इन कामों को ओर्गेनाइजेशन करते आए हैं, लेकिन क्यों न सरकार को भी ऐसी पहल करनी चाहिए जिसके माध्यम से ऐसे लोग जिनके पास समय है, जो सेवा देना चाहते हैं, सेवाभावी हैं, उनको काम करने का अवसर मिले.

यह भी पढ़े -   सीएम मनोहर लाल का बड़ा ऐलान- कैंसर एवं एचआईवी पॉजिटिव मरीजों को बहुत जल्द मिलेगा पेंशन का लाभ

आज हमने जो समर्पण पोर्टल बनाया है इसमें सेवा करने वाले लोग बहुत से रिटायर हैं. जिनके अंदर सेवा करने का जज्बा है, वो सेवा करना चाहते हैं. उनके अन्दर सेवा करने की क्षमता है. उनका अनुभव भी है, वो काम करके आगे आना चाहते हैं.

CM खट्टर ने कहा अभी हम चाहते हैं जैसे किसान है, किसानों को गाइड करने के लिए कुछ किसान मित्र चाहिए. तो वो लोग यहाँ पर सेवा देंगे. जंगल को सुरक्षित रखना है, जंगल को आगे बढ़ाना है, हम चाहते हैं वन मित्र आने चाहिए. इसी प्रकार हर एक चीज़ में अगर शिक्षा को आगे बढ़ाना है, तो अध्यापक मित्र ने चाहिए. पुलिस को आगे बढ़ाने के लिए पुलिस मित्र चाहिए. पुलिस मतलब रक्षा, सुरक्षा में भी वो लोग सहयोगी हो सकते हैं.

तो ऐसे विभिन्न विधवाओं के लोग इसमें आए और केवल रिटायर ही आए ऐसा नहीं है, हमारे सर्विस में भी बहुत ज्यादा काम करना होता है ऐसा नहीं है! सर्विस क्लास की भी 8 घंटे की ड्यूटी है, सप्ताह में 5 दिन है, साल में 50 से 55 छुट्टियां भी है. देखा जाये तो 8 घंटे के हिसाब से 150 दिन मुश्किल से काम करता है आदमी, वो भी बढ़चढ़कर के आगे आए.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में MSP से आधे दाम पर बिक रहा बाजरा, डीएपी खाद के लिए मारामारी: भूपेंद्र सिंह हुड्डा

उन्होंने अन्य योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि हरियाणा में किसी भी तरह की कोई समस्या आ जाती है तकलीफ आ जाती है तो वहाँ तुरंत गाड़ियां पहुँच जाती हैं और सहायता करती हैं. उन्होंने कहा हमारा जो हरियाणा कौशल विकास मिशन है उन्होंने हुनर ऐप्प को लॉन्च किया है. इससे खासकर नौजवानों को ऑटोमैटिक रास्ता मिल जाएगा और ये हुनर ऐप्प आपका जो लिंक है जो जन सहायक पोर्टल है उसमें डाल दिया गया है.

सीएम खट्टर ने PM नरेंद्र मोदी की तुलना पंडित दीनदयाल से करते हुए कहा कि PM मोदी गरीब से गरीब, पिछड़े से पिछड़े लोगों को ध्यान में रखते हुए नई नई योजनाएं लाते हैं. आगे कहा की भारत देश जब आजाद हुआ तो उस समय सभी प्रकार के क्षेत्रों पर ध्यान दिया गया लेकिन आम आदमी और गरीब आदमी के ऊपर ध्यान नहीं दिया गया. कह सकते हैं एक तरीके से इसकी अवहेलना हुई है.

उन्होंने कहा कि सरकार का काम होता है अराजकता को रोकना. हालांकि शांतिप्रिय आंदोलन चले लेकिन सरकार अराजकता को माफ़ नहीं करेगी. इससे देश का नुकसान, प्रदेश का नुकसान और जनता का भी नुकसान है. आखिर हम देखते हैं पंजाब में 1984 में अराजकता का आंदोलन चला, उससे आज तक पंजाब नहीं संभल पाया है.

यह भी पढ़े -   पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट का फैसला- नाबालिग को सहमति संबंध में रहने के लिए नहीं दें सकते हैं सुरक्षा

पंजाब की आर्थिक स्थिती पीछे चले गई है. खैर हमें टिप्पणी नहीं करनी चाहिए, लेकिन पड़ोस का प्रदेश है उदाहरण दे सकते हैं ना. जबकि आज अगर हमें देखा जाए तो हरियाणा पूरे प्रदेश में आज हमारी आर्थिक स्थिती हो हमारे यहाँ लाइन ऑर्डर हो हम सबसे आगे है.
उन्होंने कहा कि एक समय ऐसा था जब नेता बिजली चोरी करने के लिए कहा करते थे. माना जाता था कि हमने बिजली कुंडी से न ली तो फिर क्या राज़ है? राज़ तो यही है कि बिजली कुंडी से ली जाए.

सीएम खट्टर ने पंजाब कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि वहां आज इस प्रकार की दुविधा और जिस प्रकार का आपसी विरोध एक प्रकार से चल रहा है. ये हाल पंजाब का ही नहीं है, दरअसल हरियाणा की कांग्रेस का भी यही हाल है. उसी कैप्टन वाली राह पर भूपेंदर सिंह हुड्डा भी चलते हैं. आजतक कांग्रेस पार्टी हरियाणा में अपना संगठन खड़ा ही नहीं कर पाई है. साल हो गए भारतीय जनता पार्टी का चरित्र है उसका कभी भी कांग्रेस मुकाबला नहीं कर सकती है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!