डिप्टी सीएम का बयान: धान की खरीद पूरी, विधायकों को 25 करोड़; यहां बनेगी नई सड़क

चंडीगढ़ | राज्य के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हरियाणा में धान खरीद पर चर्चा की. उन्होंने कहा कि इस वर्ष हरियाणा में धान की खरीद अनुमान से अधिक हुई है. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्य से अधिक खरीद की गई है. उपमुख्यमंत्री एवं खाद्य आपूर्ति विभाग मंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसानों को 48 घंटे के भीतर भुगतान कर दिया गया है ताकि उन्हें किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े.

Dushyant Chautala

58.59 लाख मीट्रिक टन धान की रिकॉर्ड खरीद

हरियाणा में अब तक 58.59 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद की जा चुकी है, जिसमें से 57.58 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान का उठाव हो चुका है. बता दें कि प्रदेश की मंडियों से अब तक 98.7 फीसदी धान का उठाव हो चुका है. उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के मुताबिक, 48 घंटे में 98 फीसदी किसानों की फसल खरीद का पैसा सीधे उनके खातों में जमा किया गया है. दुष्यंत चौटाला के मुताबिक, अब तक किसानों को 11 हजार 819 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है. शेष भुगतान का काम भी जल्द ही कर लिया जाएगा. डिप्टी सीएम ने कहा कि फसल खरीद का आज आखिरी दिन है. 1,456 पंजीकृत मीलों में विभाग की पीवी कराई जा चुकी है.

जीएसटी संग्रह में 22.71 प्रतिशत की वृद्धि

इसके साथ ही उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा के जीएसटी संग्रह में रिकॉर्ड वृद्धि हुई है. उन्होंने कहा कि नई जीएसटी प्रणाली के अच्छे परिणाम मिले हैं. जीएसटी संग्रह में 22.71 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. पिछले साल 14 हजार 203 करोड़ रुपये के मुकाबले इस बार अब तक 18 हजार 290 करोड़ रुपये का संग्रह हो चुका है. जीएसटी संग्रह में हरियाणा देश का अग्रणी राज्य रहा है. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा को भी अग्रणी राज्य का सम्मान मिला है. टैक्स चोरी रोकने के लिए नई टीमें भी बनाई गई हैं.

यह भी पढ़े -   Scholarship Scheme: डॉ. अंबेडकर मेधावी छात्र संशोधित योजना के लिए आवेदन शुरू, ऐसे करे अप्लाई

आबकारी संग्रह में अब तक 23 फीसदी की बढ़ोतरी

बता दें कि उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के पास भी आबकारी विभाग है. उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पिछले साल की तुलना में इस बार उत्पाद शुल्क संग्रह में 23 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. आबकारी वर्ष 2019-20 में 6 हजार 361 करोड़ रुपये का संग्रह हुआ था. आबकारी वर्ष 2020-21 में 6 हजार 790 करोड़ रुपए का संग्रह हुआ. आबकारी वर्ष 2021-22 में 7 हजार 936 करोड़ रुपये का संग्रह किया गया है. आबकारी वर्ष 2022-23 में अब तक 5 हजार 736 करोड़ रुपए की वसूली की जा चुकी है. उन्होंने कहा कि इस बार वह 9,500 करोड़ रुपये के आबकारी संग्रह को पार कर एक नया मानदंड स्थापित करेंगे.

हरियाणा पीओएस सिस्टम लगाने वाला पहला राज्य

इसके साथ ही उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सभी डिस्टिलरी और बॉटलिंग प्लांट सीसीटीवी निगरानी से लैस हैं. सभी डिस्टिलरीज में 28 फरवरी 2023 तक फ्लोमीटर लगाने के आदेश दिए गए हैं. वहीं, हरियाणा देश भर में पीओएस सिस्टम लगाने वाला पहला राज्य बन गया है. अब तक 55 प्रतिशत पीओएस सिस्टम लगाने का काम पूरा हो चुका है. उन्होंने बताया कि 31 दिसंबर तक पीओएस नहीं लगाने वाली शराब की दुकानों पर कार्रवाई की जायेगी.

शांतिपूर्ण रहे दो चरण के पंचायत चुनाव

पंचायती राज चुनाव पर उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अब तक 18 जिलों में दो चरणों में शांतिपूर्ण चुनाव हो चुके हैं. उन्होंने कहा कि सरकार ने महिलाओं को 50 फीसदी और बीसीए कैटेगरी को 8 फीसदी आरक्षण देकर बड़ा बदलाव किया है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, ग्रुप सी के पदों के लिए CET परीक्षा को पात्रता परीक्षा बनाने से किया इंकार

एडवेंचर स्पोर्ट्स को बढ़ावा दे रही सरकार

वहीं, उन्होंने कहा कि प्रदेश में सीईटी परीक्षा पारदर्शी तरीके से कराई गई. युवाओं को निष्पक्ष परीक्षा का अवसर मिला. साथ ही उन्होंने कहा कि देश की हवाई खेल नीति के तहत स्काई डाइविंग कराने वाली पहली नारनौल हवाई पट्टी बनी. पिछली बार 1200 स्काई डाइविंग हुई थी और इस बार दो विमानों से 2500 से ज्यादा स्काई डाइविंग कराने का लक्ष्य रखा गया है. सरकार साहसिक खेलों को बढ़ावा दे रही है.

सड़कों के लिए विधायकों से मांगवाए 25-25 करोड़ के प्रस्ताव

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने भी 9 दिसंबर को जेजेपी स्थापना दिवस पर होने वाली भिवानी रैली के लिए सभी को आमंत्रित किया था. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सड़क विकास कार्य के लिए हर विधानसभा के विधायकों से 25-25 करोड़ रुपये के प्रस्ताव आमंत्रित किए गए हैं. इनमें से अब तक 17 विधायकों के प्रस्तावों को मंजूरी मिल चुकी है. 23 विधायकों के प्रस्ताव कार्यालय पहुंच चुके हैं, बाकी विधायकों से भी प्रस्ताव आमंत्रित किए जाएंगे.

चंडीगढ़ से दिल्ली के बीच बनेगी नई सड़क

उन्होंने यह भी बताया कि केंद्र सरकार ने भारतमाला परियोजना के तहत हरियाणा को तीन बड़ी सौगातें दी हैं. पानीपत से चौटाला तक नए नेशनल हाईवे को मंजूरी मिल गई है. हिसार से रेवाड़ी तक नेशनल हाईवे प्रोजेक्ट को भी मंजूरी मिल गई है. उन्होंने कहा कि दिल्ली से चंडीगढ़ तक नई सड़क बनेगी. जिससे मौजूदा हाईवे पर ट्रैफिक का दबाव कम होगा. यह सड़क अंबाला से दिल्ली तक यमुना किनारे बनेगी. जिससे दिल्ली से चंडीगढ़ का सफर करीब दो घंटे में पूरा हो जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!